बैंक में खाता कैसे खोले? नया बैंक खाता खोलने दस्तावेज

अगर आपको बैंक में खाता खोलना है तो बेफिक्र हो जाये क्यूंकि आज हम आपको बैंक में नया खाता खोलने के बारे में यहाँ पूरी जानकारी देंगे, जिसमे आप जानोगे की बैंक में खाता खोलने का सही तरीका क्या है? और एक अच्छे बैंक का चुनाव किस प्रकार करें। बैंक अकाउंट कई प्रकार के होते है जिसका आपको ज्यादा जानकारी नहीं तो कोई बात नहीं आप बिलकुल सही पोस्ट को पढ़ रहें है।

bank me khaata kaise khole
bank me khaata kaise khole

भारत में बैंक खाता कैसे खोले? चरणबंद जानकारी जो आपको बताएगी की आपको कोनसा प्राइवेट और सरकारी बैंक अकाउंट का चुनाव करना है, कौन-कौनसी डॉक्यूमेंट चाहिए और चालू खाता एकमात्र ऐसा खाता है जिसमें एक दिन में लेन-देन करने के संख्या पर कोई निश्चित सीमा का निर्धारण नहीं किया जाता है। इस कारण वस इस लेनदेन खाते को Transaction Account से भी जाना जाता है।

यह भी पढ़िए:

इस प्रकार के खाते का इस्तेमाल का उद्देश्य न तो निवेश के लिए और न ही बचत के लिए होता है, बल्कि इस प्रकार के खाते को व्यापार को विशेष सुविधा प्रदान करने के लिए रखा जाता है। बैंक इन खातों में पड़ी हुई राशि पर कोई ब्याज का भुगतान नहीं करती हैं और कुछ मामलों में सेवाएं प्रदान करने के लिए एक छोटी शुल्क लेती हैं। इस प्रकार के बैंक खाते आमतौर पर व्यवसायों द्वारा खोले जाते हैं क्योंकि उनके लेन-देन की संख्या Higher Side होती है।

नया बैंक खाता कैसे खोले? चालू खाता खोलने की प्रक्रिया

सभी भारतीय बैंकों को चालू खाते खोलने की अनुमति है। आप अपेक्षित दस्तावेजों के साथ किसी भी बैंक से संपर्क कर सकते हैं और सफलतापूर्वक सभी विवरण प्रस्तुत कर सकते हैं और एक चालू खाता खोल सकते हैं। बैंकर सभी दस्तावेजों को सत्यापित करेगा और यदि संतुष्ट है तो आपका चालू खाता खोल देगा।

चालू खाता उपयोगकर्ताओं को अपने खाते में त्रैमासिक औसत से नीचे एक संतुलन बनाए रखना आवश्यक है। अधिकांश बैंकों में 5,000 / 10,000 तक की न्यूनतम त्रैमासिक औसत शेष राशि मानदंड है। निजी बैंकों में न्यूनतम शेष राशि आपको चालू खाते के लिए INR 10,000 रखनी होगी।

नया बैंक खाता खोलने का तरीका

आज के समय में हम ऑनलाइन भी अपना बैंक अकाउंट खोल सकते है पर जब हम इस्सी प्रकिर्या को अपने नजदीकी बैंक में जाकर करते है तो आपको कुछ डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होगी, वो कौन-कौनसी डॉक्यूमेंट है जिनको लेकर आपको बैंक में जाना है उनकी सूची अभी नीचे लिख रहें है जो आपके बैंक अकाउंट फॉर्म को भरने के लिए आवश्यक है।

Bank Khata Kholne Ke Liye Documents:

बैंक में खाता खोलने के लिए आपके पास कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज होने चाहिए। इन दस्तावेजों को आपके फॉर्म में डाल दिया जाता है। और बैंक खाता खोलने के लिए ये बहुत आवश्यक हैं।

  • Partnership Deed: साझा पत्र (साझेदारी विलेख)
  • पैन कार्ड
  • तीन पासपोर्ट साइज फोटो
  • निगमन प्रमाणपत्र
  • Address Proof: बिजली बिल, टेलीफोन बिल, राशन कार्ड
  • Identity Card: आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र

अब नीचे दिए गये चरणों की पालना करें, जो आपको एक नया बैंक खाता खोलने के बारे में जानकारी देंगे:

1. खाता प्रकार चुने।

बैंक खाते कई प्रकार के होते है, जिसमे सेविंग, करंट, आवर्ती जमा खाता/ रिकरिंग अकाउंट और सावधि जमा खाता/फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट आदि, अब सबसे पहले आपको चुनाव करना है की किस प्रकार का बैंक खाता आपको खुलवाना है।

2. एक अच्छे बैंक का चुनाव।

बैंक का चुनाव में कई सारे फैक्टर काम करते है, सबसे पहला की वो आपको वो सारी सुविधा देने में समर्थ है जिसके लिए आपको नया बैंक खाता खुलवाना है, और आपकी पहुँच में हो और जहाँ अच्छे बैंक अधिकारी हो और अपने सुविधाजनक बैंक से संपर्क करना चाहिए।

3. बैंक खाता खोलने का प्रस्ताव फॉर्म भरें।

बैंक में जाए और ऊपर लिखित आवश्यक डॉक्यूमेंट को साथ लेकर जाये और प्रस्ताव फॉर्म भरें, जिसमे आपको साझा पत्र (साझेदारी विलेख), पैन कार्ड, तीन पासपोर्ट साइज फोटो, निगमन प्रमाणपत्र, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, राशन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र इनमे से कोई भी वो डॉक्यूमेंट लेकर जाए जो आपके नाम, पता और विवरण और व्यवसाय के बारे जानकारी देती हो।

4. फॉर्म को भरकर, जांच और जमा करें।

आपको बैंक द्वारा जी फॉर्म दिया जाता है उससे कीसी आधिकारी की मदद से भरे, और अंत में फॉर्म की एक बार जांच अवस्य करें की कहीं कुछ गलत त नहीं भर दिया, अंत में उससे बैंक अधिकारी को सबमिट करें।

5. बैंक खाते में प्रारंभिक राशि जमा करें।

बैंक खाते में आपको पहली राशि जमा करनी होती है, हालांकि कुछ बैंक खाते जीरो बैलेंस पर भी खोले जाते है, इसके बारे में बैंक अधिकारी आपको बता देंगे। जिसके बाद आपको वो बैंक की पासबुक दे देंगे, पात्रता के आधार पर आप एटीएम, डेबिट और क्रेडिट कार्ड के लिए भी अनुरोध कर सकते हैं।

करंट बैंक (चालू) खाता क्या है?

आप जब एटीएम का इस्तेमाल करते है तो आपको करंट और सेविंग खाते के बारे में पूछा जाता है, करंट अकाउंट को चालू बैंक खाता भी कहा जाता है, हम व्यापार लेनदेन में चालू खाते का उपयोग करते हैं। यदि आप एक ट्रेडिंग खाते में लेनदेन करते हैं, तो कोई निश्चित सीमा नहीं है।

आप इस खाते में जितने चाहें उतने लेनदेन कर सकते हैं। चालू खाते में जमा राशि पर खाताधारक को ब्याज नहीं मिलता है। यह खाता सुविधा व्यापारियों के लिए बहुत उपयोगी है। चालू खाते में खाताधारक को ओवरड्राफ्ट सुविधा भी प्रदान की जाती है। आप ट्रेडिंग लेनदेन के लिए चालू खाते का उपयोग कर सकते हैं।

करंट अकाउंट का उपयोग हम व्यापारिक लेन-देन में करते है। व्यापारिक अकाउंट में अगर आप लेन-देन करते है तो इसकी कोई एक निश्चित सीमा निर्धारित नहीं होती है। आप इस अकाउंट में जितना चाहे उतना ट्रान्सेक्शन कर सकते है। करंट अकाउंट में खाता धारक को जमा राशि पर ब्याज नहीं मिलता है।

कौन चालू बैंक खाता खोल सकता है:

भारत के सभी बैंक आपको चालू बैंक खाता खोलने की सुविधा प्रदान करते है, चालू बैंक खाता वो खोल सकता है, बस आपको इसके बारे में कुछ सामानया जानकारी होना आवश्यक है:

  • व्यक्तिगत चालू खाता किसी बिजनेस के उद्देश्य से
  • संयुक्त हिन्दू परिवार के लिए चालू खाता।
  • खाताधारकों में से कोई एक या एक से अधिक।
  • जीवित में से कोई एक या एक से अधिक।
  • साझेदारी वाली फर्म के लिए चालू खाता।
  • एकल स्वामित्व वाली फर्म के लिए चालू खाता।
  • कंपनी (Private or Public Sector) के लिए चालू खाता।
  • ट्रस्ट, सोसाइटी, एसोसिएशन, क्लब के लिए चालू खाता।
  • लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनर-शिप फर्म के लिए चालू खाता।
  • किसी संस्था के प्रोजेक्ट ऑफ़िस के लिए चालू खाता।
  • किसी संस्थान के शाखा कार्यालय के लिए चालू खाता।
  • प्रतिनिधि कार्यालय के लिए चालू खाता।

चालू खाते की कुछ आवश्यक बातें:

दोस्तों, चालु बैंक खाता एक जमा खाता होता है जिसमे उपयोगकर्ता कभी भी पैसे जमा और निकाल सकता है, ओपन बैंक अकाउंट को खोलने का तरीका भी बहुत आसान है जिसके बारे में ऊपर आपने पढ़ा।

  • चालू बैंक खाता खोलने के लिए आपकी आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • भारतीयों और व्यक्तियों / एकल प्रोपराइटर / भागीदारी / संघों / निजी और सार्वजनिक कंपनियों / सोसायटी / ट्रस्ट / अविभाजित हिंदू परिवारों आदि द्वारा खोला जा सकता है।
  • एक एकल स्वामित्व व्यवसाय के लिए आवश्यक दस्तावेज निजी लिमिटेड कंपनी के मामले में आवश्यक लोगों से अलग होंगे।
  • एक चालू खाता खोलना बहुत आसान है। आवेदन पत्र भरें और पहचान और पते के प्रमाण जैसे आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।

अगर कोई NGO (जानिए Ngo Registration के Process के बारे में) है तो उसे निचे दिए गए Documents को Bank में जमा करना होगा:

  • ट्रस्ट डीड की प्रतिलिपि
  • पंजीकरण प्रमाण पत्र की प्रति
  • खाते खोलने के लिए संबंधित सदस्यों को अधिकृत करने वाले ट्रस्टियों द्वारा संकल्प की प्रति
  • आवासीय पते वाले न्यासी की सूची
  • खाता संघों या क्लबों को संचालित करने वाले सदस्यों की तस्वीरें
  • एसोसिएशन या क्लब के उप-नियम
  • पंजीकरण का प्रमाण पत्र
  • बोर्ड द्वारा संकल्प की प्रतिलिपि
  • खाते को संचालित करने वाले सदस्यों की तस्वीरें
  • जब आपके पास सभी जरुरी Documents Ready हो तब आप Bank में जा कर Account Opening Form ले कर, उसे Fill Up करे और दस्तावेजों के साथ Branch में जमा कर दें।

यह भी पढ़िए:

निष्कर्ष:

जी हाँ दोस्तों, आपको आज की पोस्ट कैसी लगी, आज हमने आपको बताया Bank Khaata Kaise Khole और Bnak Me Khaata Kholne Ka Trika बहुत आसान शब्दों में, हमने आज की पोस्ट में भी सीखा।

आज मैंने इस पोस्ट में Bank Me Khaata Kaise Khole सीखा। आपको इस पोस्ट की जानकारी अपने दोस्तों को भी देनी चाहिए। वे और सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट ज़रूर साझा करें। इसके अलावा, कई लोग इस जानकारी तक पहुंच सकते हैं।

यदि आप हमारी वेबसाइट के नवीनतम अपडेट पाना चाहते है उसके लिए Sahu4You.com को Visit करते रहे साथ ही हमसे Facebook, Twitter और Instagram पर जरूर जुड़े।

नई तकनीक के बारे में जानकारी के लिए हमारे दोस्तों, फिर मिलेंगे ऐसे ही नई प्रौद्योगिकी की जानकारी के बारे में, हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद, और अलविदा दोस्तों आपका दिन शुभ हो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *