डाटाबेस (Database) क्या है? – What Is Database In Hindi

Database क्या है और कंप्यूटर में डेटाबेस का मतलब क्या होता है इसके बारे में आप आज इस पोस्ट में पूरी जानकारी पढेगे जिसमे हम आपको बतायेगे की डेटाबेस में डाटा इनफार्मेशन कैसे स्टोर होता है और उसका उपयोग कहा और कैसे किया जाता है, Database क्या है? इसका उपयोग कहाँ-कहाँ होता है? अगर आपके भी ऐसे ही सवाल है तो उसके सारे जवाब आपको इस लेख में पढने को मिलेगे जिससे आपके सारे छोटे-मोटे डाउट क्लियर हो जायेगे.

database kya hai what is database
database kya hai what is database

इंटरनेट पर दिखने वाली हर एक चीज़ किसी सर्वर के डेटाबेस में स्टोर होती है जिसको हम इन्टरनेट पर सर्च करके आसानी से ढूंड सकते है, नोर्मल्ली आपने सुना ही होगा की आधार कार्ड का डाटा लीक हो गया, किसि सर्वर का डेटाबेस हैक हो गया या फिर डाटाबसे में में कुछ मॉडिफिकेशन करना है तो ऐसे में आपको बहुत जगह पर डेटाबेस के बारे में सुनने को मिलता है, तो आज के इस पोस्ट में आपको बताऊंगा की डेटाबेस क्या होता है और यह काम कैसे करता है.

बड़ी-बड़ी Company अपने Employees का सारा डाटा जैसे की Name, Salary, IDno, Address को ऑनलाइन स्टोर करके रखता है, Schools और University अपने सभी स्टूडेंट्स का डाटा को Name, Roll no, Address, City के रूप में इन्टरनेट पर स्टोर करके रखते है उससे हम डाटा बोलते है, कंप्यूटर की भाषा में हम डाटा को जहा पर उससे स्टोर किया जाता है उससे डेटाबेस कहते है मतलब की आप Storage of Data का नाम भी दे सकते है.

इंडिया में सबसे ज्यादा डाटा स्टोर की बात करे तो आधार कार्ड का नाम दे सकते है क्युकी आधार कार्ड सभी का है जिसका डेटाबेस बहुत बड़ा है जहा पर आपके आधार कार्ड की डिटेल्स स्टोर होती है उससे आधार कार्ड का डेटाबेस बोलते है और डेटाबेस में बदलाव भी किया जाता है,

डाटा क्या होता है?

डाटा सिर्फ कंप्यूटर से ही नहीं जुड़ा हुआ इससे हम डेली जीवन में भी इस सबद का उपयोग करते है आखिर यह डाटा क्या होता है और इसका उपयोग कहाँ पर किया जाता है, Data को सबद को “ट्रांसमिसिबल और स्टेलेबल कंप्यूटर सूचना” को पहली बार 1946 में उपयोग किया गया जिसका मतलब सुचना और ज्ञान होता है पर इससे हम अलग-अलग जगह पर भी उपयोग कर सकते है जिससे इसका काम और मह्त्व दोनों बदल जाता है.

पहले हम अपने जरुरी डाटा और डाक्यूमेंट्स को किसी टेबल और अलमारी में सिरिअलवाइज ऐसे रखते थे जिससे वो हमे आसानी से मिल सके और उससे ढूंढने में परेशानी न हो उस्सी तरह कंप्यूटर और इन्टरनेट पर ऐसा स्टोर होता है जहा पर हम अपने जरुरी डाटा को सीरियलवाइज स्टोर करके रख सकते है, डाटा का मतलब आप Collection of Records भी बोल सकते है, डाटा को Proper Way में मैनेज करके रखा जाता है.

कंप्यूटर के निर्माण होने से पहले भी लोग डाटा को स्टोर करते थे पर उनका तारिका अलग था, पहले लोग किसी सुचना और ज्ञान को कागज़ पर लिखकर किताबो के रूप में रखते थे जिससे हम डाटा बोल सकते है और किताबो से भरी एक सुसज्जित अलमारी को हम डेटाबेस बोल सकते है, मुझे उम्मीद है मेरे समझाने का तरीका आपको जरुर पसंद आया होगा.

डेटाबेस क्या होता है?

Data base (DB) को हम आसानी से समझ सके है, क्युकी कंप्यूटर की भाषा में डेटाबेस को डाटा की स्टोरेज बोलते है, किसी कंप्यूटर प्रणाली पर संचित आंकड़ो और संग्रहित डाटा को डेटाबेस बोला जाता है, डेटाबेस में आप बहुत तरह से डाटा को स्टोर करके रख सकते है जैसे कि डॉक्यूमेंट (Document), वर्कशीट(Worksheet) या फिर प्रोग्राम फाइल्स (Program Files) में और जब हम रो (Row) और कॉलम (Column) में किसी डाटा को स्टोर करते हैं तो उसे टेबुलार डाटा (Tabular Data) कहा जाता है.

एक अच्छा डेटाबेस व होता है जिसमें सभी जरुरी जानकारी हो और और आपके पास उसका पूरा Management हो जिससे जरुरटी के समय आप उसमे बदलाव भी कर पाए और आपके द्वारा स्टोर की गयो सारी जानकारी सिक्योर हो उसे कोई हैकर चुरा नहीं पाए, क्या आपको पता है आप डेटाबेस में ऑडियो, वीडियो, ग्राफिक्स, इमेज आदि को स्टोर करके रख सकते है.

बहुत सारे डाटा को किसी एक जगह पर स्टोर करके रखने की प्रकिर्या को हम डेटाबेस बोल सकते है, क्युकी डाटाबेस में बहुत सारा डाटा एक जगह पर आपको मिल जाता है जिसने हमारे बहुत सारे मुस्किल काम को आसान कर दिया है, डेटाबेस को अलग-अलग जगह पर विभीन्न रूप में उपयोग किया जाता है अभी में आपको बताऊंगा की डेटाबेस का इस्तेमाल और उपयोग कैसे और कहाँ-कहाँ पर मुख्यत किया जाता है.

DBMS क्या है Database Management System

Database Management System कंप्यूटर का एक प्रोग्राम होता है जो डाटा को अछे अच्छे से संग्रह करके रखने में मदद करता है, कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर है जो की डेटाबेस को Manage करके रखता है, डेटाबेस प्रबन्धन प्रणालियाँ में डाटा को स्टोर करना ही महत्वपूर्ण नहीं है उसके साथ Database Management System Data Sharing और Data Security और हैकर के Access को रोकना भी जरुरी होता है अगर ऐसा नहीं किया जाता तो आपका प्राइवेट डाटा को कोई प्यूबिक कर देगा और वो बिलकुल भी सिक्योर नहीं रहेगा.

Database कितने प्रकार के होते है: Database Model in Hindi

  1. Hierarchical Model
  2. Network Model
  3. Relational Model

Hierarchical Model:

यह Database Model Data को एक पेड की तरह से दिखाता है जिसमे एक ही Root (जड़) होती है जिससे अन्य डाटा उससे जुड़े हुए होते है और Tree में Nodes और Branches को जोड़ कर रखते है, जिसमे Child Nodes अपने Parent Nodes को अपने साथ जोड़ते है.

Hierarchical Model
Hierarchical Model

Network Model:

Network Model को आप Powerful और Complicated भी बोल सकते है क्युकी यहाँ डाटा के सारे Nodes Table एक दुसरे से जुड़े रहते है इसलिए Network Model को Graph Structure के रूप में Represent कर सकते है, Department, Student, Course और Professor एक दुसरे से जुड़े रहते है.

 

Network Model
Network Model

Relational Model:

यह Database Model Data बहुत ही उपयोगी और महत्वपूर्ण है जो टेबल की तरह प्रतीत होता है इसमें डाटा को टेबल की तरह से स्टोर किया जाता है, जो की Oracle Relational Database Management System का उदाहरण है, Oracle Relational Database Management System भी इसके उदाहर है जिसका उपयोग Artifical Intelligence और Expert System में किया जाता है.

Relational Model
Relational Model

मुझे उम्मीद है आपको What is Database in Hindi और डाटाबेस क्या है और इसके प्रकार के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी, मुझे आशा है आपको Database की पूरी जानकारी हिंदी में हो गयी होगी और फिर भी आपका कोई सवाल है तो कमेंट करके आप पूछ सकते हो, वैसे आज के टॉपिक Database क्या है (What is Database in Hindi) और Database Model in Hindi के बारे में मैंने अच्छे से एक्सप्लेन किया इससे आप आपने दोस्तों के साथ में सांझा करें.

Default image
Vikas Sahu
मैं एक पेशेवर ब्लॉगर हूँ, इस ब्लॉग पर आप उन लेखों को पढ़ेंगे जिनसे आप अपना करियर और पैसा दोनों ऑनलाइन ब ना सकते हैं.. read more

3 Comments

  1. Aapne bhut acchi jaankari diya hai.

  2. database ke bareme achhi janakari share ki hai

Leave a Reply