Guru Gobind Singh Jayanti 2024 - जानें कब कब और इतिहास

foryou

January 16, 2024 (4mo ago)

गुरु गोविंद सिंह जयंती 2024

गुरु गोविंद सिंह जी का जन्म 22 दिसंबर 1666 को पटना में हुआ था। उनके पिता सिखों के नौवें गुरु, गुरु तेग बहादुर जी थे और माता का नाम गुजरी था। गुरु गोविंद सिंह जी सिखों के दसवें और अंतिम गुरु थे।

गुरु गोविंद सिंह का जन्म कहां हुआ

गुरु गोविंद सिंह जी का जन्म पटना, बिहार, भारत में हुआ था। उनके जन्म का स्थान वर्तमान में तखत श्री हरिमंदर जी पटना साहिब के नाम से जाना जाता है।

गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती हर साल 16 जनवरी को मनाई जाती है। यह दिन सिखों के लिए एक महत्वपूर्ण त्योहार है। इस दिन गुरु गोविंद सिंह जी के जन्म की याद में विशेष समारोह आयोजित किए जाते हैं।

गुरु गोविंद सिंह पुण्यतिथि

गुरु गोविंद सिंह जी की पुण्यतिथि हर साल 7 अक्टूबर को मनाई जाती है। यह दिन सिखों के लिए एक शोकपूर्ण दिन है। इस दिन गुरु गोविंद सिंह जी की मृत्यु की याद में विशेष समारोह आयोजित किए जाते हैं।

गुरु गोविंद सिंह का इतिहास

गुरु गोविंद सिंह जी एक महान योद्धा, कवि, भक्त और आध्यात्मिक नेता थे। उन्होंने अपने जीवन में कई महत्वपूर्ण कार्य किए, जिनमें से सबसे महत्वपूर्ण हैं:

  • उन्होंने खालसा पंथ की स्थापना की, जो सिखों का एक सैन्य-धार्मिक संगठन है।
  • उन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब को पूरा किया, जो सिखों का पवित्र ग्रंथ है।
  • उन्होंने सिखों को धर्म की रक्षा के लिए लड़ने के लिए प्रेरित किया।

गुरु गोविंद सिंह जी के इतिहास पर कई पुस्तकें और लेख लिखे गए हैं। इनमें से कुछ महत्वपूर्ण पुस्तकें हैं:

  • गुरु गोविंद सिंह जी का जीवनचरित, बाबा सोहन सिंह तलवंडी
  • गुरु गोविंद सिंह जी के दर्शन, डा. गुरमुख सिंह
  • गुरु गोविंद सिंह जी की कविताएं, डा. हरपाल सिंह

गुरु गोविंद सिंह के बच्चों का इतिहास

गुरु गोविंद सिंह जी के चार पुत्र थे:

  • साहिबजादा जुझार सिंह
  • साहिबजादा जोरावर सिंह
  • साहिबजादा फतेह सिंह
  • दारा सिंह

इनमें से तीन पुत्रों की मृत्यु मुगलों से युद्ध में हुई थी। दारा सिंह ने अपने पिता के बाद खालसा पंथ की अगुवाई की।

गुरु गोबिंद सिंह को किसने मारा

गुरु गोविंद सिंह जी की मृत्यु 7 अक्टूबर 1708 को हुई थी। उनकी मृत्यु का कारण स्पष्ट नहीं है। कुछ इतिहासकारों का मानना है कि उनकी मृत्यु एक प्राकृतिक बीमारी से हुई थी, जबकि अन्य का मानना है कि उन्हें मुगलों ने मार डाला था।

निष्कर्ष

गुरु गोविंद सिंह जी एक महान व्यक्ति थे जिन्होंने सिख धर्म को नई दिशा दी। उनके कार्यों ने सिखों को एक मजबूत और संगठित समुदाय बनाया।

Enjoy this article? Feel free to share!

Gradient background