On Page SEO 2021: ऑन-पेज एसईओ क्या है?

On-Page SEO

How to Write Quality Content for your Blog Posts

1. Good Quality Content

हर ब्लॉग और वेबसाइट की ख़ास चीज़ उसके द्वारा पब्लिश किया जाने वाला कंटेंट है, ब्लॉग पोस्ट की क्वालिटी बढ़ने के लिए प्रॉपर कीवर्ड रिसर्च, इंटरलिंकिंग और लिखने का तरीका महत्व रखता है।

ब्लॉग पोस्ट आईडिया जो भी कंटेंट अपने ब्लॉग पर पब्लिश करते है तो कंटेंट की क्वालिटी बनाने के लिए Keword Research करनी चाहिए और आपको उस टॉपिक के बारे में पूरी जानकारी होती है तभी आप उससे अच्छे से एक्सप्लेन कर पायेंगे।

कंटेंट में Friendly और Catchy Headings लिखे जिससे Better SEO और User Attraction में आपको मदद मिलेगी,कंटेंट को जितना ज्यादा हो सके उससे एक्सप्लेन करने की कोशिस करे कम से कम शब्दों में ज्यादा जानकारी देने की कोशिस करें।

मतलब आपको एक कंटेंट के बारे में अच्छी जानकारी होती है तो आप Long Tail Keywords पर भी अच्छा Focus बना सकते है जो On Page SEO के लिए Useful साबित होगा।

2. Keyword Analysis

अगर आप On Page SEO में नये है और आपको जानकारी नहीं है की Keyword  Research कैसे करते है तो यह सभी के साथ होता है जो Newbie Bloggers के लिए बहुत बड़ी उलझन होती है ऐसे में हम आको बताएँगे की Keyword Find और उन पर Research किस प्रकार करते है तो सबसे पहले जानते है की Keyword Research करना जरुरी क्यों होता है इसकी इतनी महत्वता क्यूँ है.

SEO Keyword research
On Page SEO 2021: ऑन-पेज एसईओ क्या है? 3

कीवर्ड एक ऐसा शब्द है जब यूजर इंटरनेट पर कुछ भी खोजते हैं, यह आपका कीवर्ड है और बिना रिसर्च किए आपको पाठकों को लक्षित करने के लिए हाई ट्रैफ़िक वाले कीवर्ड ढूंढना होगा।

आपको पता होना चाहिए कि किसी विषय के किस विषय पर कितन ट्रैफिक, CPC, कीवर्ड की डिफिकल्टी आदि के बारे में पता करने के लिए, आपको कई मुफ्त और सशुल्क टूल मिलेंगे जो Best keyword research करने के टूल मदद करते हैं।

यदि आप अधिक ट्रैफ़िक प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको उन कीवर्ड्स के लिए रैंक करना होगा, जिनमें अच्छे ट्रैफ़िक हैं और यदि आप कम ट्रैफ़िक कीवर्ड्स को लक्षित कर रहे हैं तो आप अच्छे ट्रैफ़िक प्राप्त नहीं कर पाएंगे।

कीवर्ड्स दो प्रकार के होते है:

Short Keywords और Long-Tail Keywords दो तरह के होते हैं।

यहां आपको यह देखना होगा कि क्या शॉर्ट कीवर्ड पर बहुत अधिक कॉम्पिटिशन है और फिर लॉन्ग टेल वाले कीवर्ड पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश करें।

3. Copyrighting Content

यह बहुत जरुरी है की आप क्या लिख रहे है जितना हो सके अपने कंटेंट को दुसरे लेखक से अलग बनाने की कोशिस करे Duplicate Content लिखने से आपको बहुत सारे नुक्सान हो सकते है, इन्टरनेट पर अनगिनत वेबसाइट है जो Quality Content लिखने के किये बहुत HardWork और Research करते है और कोई दूसरा उसका कंटेंट पढ़ कर उससे कुछ बदल कर या उस जैसा लिख पर उससे अपने ब्लॉग में पब्लिश कर देते है ऐसे में उसकी ज्यादा मेहनत भी नहीं लगती.

volunteer 1326758 640
On Page SEO 2021: ऑन-पेज एसईओ क्या है? 4

पर ऐसा करने से आपकी वेबसाइट की रैंकिंग पर बुरा असर पड़ता है और जो SEO Guidelines के बिलकुल खिलाफ होता है.

DMCA की मदद से आप अपनी वेबसाइट से चोरी होने वाले कंटेंट के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर पाएंगे, DMCA का फुल फॉर्म Digital Millenium Copyright Act होता है, जो United States (US) की Copyright Law है जिससे वेबसाइट Owner अपने Content जैसे Text, Image, Video और Audio को Copyright को चोरी होने से रोक सकता है.

सबसे पहली बात तो यह है की रीडर भी कॉपी किये गये आर्टिकल को पसंद नहीं करता और SEO के लिए भी Harmful होता है तो ऐसे में Unique Content लिखने का प्रयास करे और अगर आपका कंटेंट 100% Original है और Long Length Words का है तो SEO और Google SERPs में अच्छी रैंक मिलेगा तो इस बात का हमेशा ध्यान रखे.

4. Improve Website Speed

जितना फ़ास्ट आपका ब्लॉग खुलेगा उतना ही आपको SEO की तरफ से फायदा होगा और Fast Loading Blog को गूगल में ज्यादा मह्तावता दी जा रही है जिसके लिए वेबमास्टर्स फ़ास्ट लोडिंग थीम और AMP का सहारा ले रहे है जिसका उन्हें फायदा भी मिल रहा है.

इस बात को ध्यान में रखकर हमने अपनी वेबसाइट के लोड टाइम को कम किया जिसका फायदे मुझे देखने को मिला है.

ब्लॉग पोस्ट में फोटो और विडियो को जोड़ना अच्छी बात है क्युकी उससे Users का Attraction मिलता है और उससे अच्छे से कंटेंट को Optimize कर सकेंगे और उससे ज्यादा जरुरी है की आप जो भी फोटो ब्लॉग में अपलोड करे उससे पहले उससे Optimize करे जिससे वेबपेज का लोड टाइम कम होगा और आपके Website Speed Improve होगी.

Google Slow Loading Website को पाठक और गूगल On Page SEO बिलकुल भी पसंद नहीं करता तो इस बात को हलके में मत ले और अपनी वेबसाइट को Speed UP करे जिसके बारे में मैंने एक लेख लिखा है “How to Speed up WordPress Blog” पोस्ट को जरुर पढ़े जो आपके लिए मददगार साबित होगा.

5. Fix Website Errors

अगर कोई विजिटर आपकी वेबसाइट पर आता है और उसका स्वागत बहुत सारे एरर से होता है तो उसपर आपकी वेबसाइट के प्रति गलत अगर करेगा और बार बार आपकी वेबसाइट का ब्लाक होना और पूरी तरह से गायब होना आपके लिए खतरे का संकेत बन सकता है.

आपने देखा होगा की वेबसाइट पर जाते है और आपको Error Establishing a Database Connection और 500 Internal Server Error  के एरर देखने को मिलते है तो उन्हें जल्दी से फिक्स करे.

Website Errors क्या है और इसे Fix कैसे करें?

  • .htaccess का Corrupt हो जाने से एरर आते है.
  • किसी एक Plugin का Compatible नहीं होना एरर का कारण बन सकता है.
  • PHP Memory Limit का पूरा होने पर.
  • WordPress की Corrupt Core Files से भी एरर आते है.
  • अच्छी वेब होस्टिंग इस्तेमाल नहीं करने से आपको बहुत सारे एरर देहने के मिलेगे.

वेबसाइट में आने वाले एरर आपकी वेबसाइट पाठको और SEO को नुक्सान देती है इससे जल्दी से जल्दी फिक्स करने की कोशिस करे.

6. Mobile Friendly Website

आपकी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाने के लिए आपको वेबसाइट को इस तरह से डिजाईन करना होगा जिससे आपकी वेबसाइट सभी मोबाइल फ़ोन में अच्छे से खुले.

इसके लिए आपकी वेबसाईट का डिजाईन ऐसा हो जो Mobile Responsive हो, उसके लिए बहुत सारे थीम आपको मिल जायेगे, Google Mobile Friendly Test उपकरण से अपने वेबसाइट की जाँच अवश्य करें.

अगर हम बात करे की Website Mobile Friendly होना क्यूँ जरुरी है तो जानकारी के लिए आपको बता दू की गूगल Responsive Website को ज्यादा महत्वता देता है और मोबाइल वेबसाइट को first इंडेक्सिंग करता है.

अगर आपकी वेबसाइट मोबाइल और कंप्यूटर में अच्छे से नहीं खुल रहा है तो हमारे बनाये गये “Sahu4You Genesis Child Theme” का इस्तेमाल करे जो की पूरी तरह से फ्री है.

8. Check Keyword Density

White Hat Seo में Keyword Density का काफी मह्त्व होता है कीवर्ड की डेंसिटी को कण्ट्रोल करना बहुत जरुरी है, कीवर्ड डेंसिटी क्या होता है? आप एक कीवर्ड को Focus करके कंटेंट को लिखते है और उस कंटेंट में उस कीवर्ड की कितना बार रिपीट करते है.

सामान्यतया कीवर्ड डेंसिटी को 2% के भीतर रखे इससे ऊपर लेकर मत जाये जिससे आपका कंटेंट Black Hat SEO की नजर में नहीं आएगा और Keyword Stuffing जैसी दिक्कत से बचने के लिए Keyword Density पर ध्यान रखे.

इन्टरनेट पर बहुत सारे टूल है जिससे आप Keyword Density चेक कर सकते है में Yoast SEO Plugin की मदद लेता हु, Keyword Density Check करने की Free Online Tools के बारे में आपको जल्दी ही नये पोस्ट में बताने वाला हु जिससे आप भी On Page SEO और Keyword Density Check आसानी से कर पायेंगे.

9. Catchy Titles Tags

Post की Title Tag को SEO Friendly कैसे बनाये, जिस से ज्यादा CTR improve हो और SEO को भी अच्छे से Improve क्या जा सकता है,

  • On Page SEO को बेहतर करने के लिए Title Perfect होना चाहिए।
  • Post के CTR (Click Through Rate) Improve होगा जो लाभदायक है।
  • Cacheable Title, Attractive Headings से आपके Post पर लोग ज्यादा Click करेंगे।

Title Tag और Headings में मुख्य कीवर्ड का उपयोग करना और उसको SEO Friendly बनाना जरुरी होता है जिससे Search Engine से Users आपके कंटेंट को पढना पसंद करेगे.

जिसमे आप H1 मुख्य Post Title Heading को पोस्ट के टाइटल के रूप में उपयोग करे और Subheadings के लिए H2, H3 और H4 का उपयोग करके लिखे जिससे Google इंडेक्सिंग के टाइम आसानी से आपका कंटेंट पढ़ा जायेगा और पाठको को भी आपके लेख को पढने में आसानी होगी.

10. Removing Duplicate Content

अगर आपने इस चीज़ को गुमराह करते है तो आप Google Search Engines Guidelines को नहीं मानते जिससे Google अल्गोरिथम  आपको कभी भी Penalize कर सकते है.

किसी एक वेबसाइट पर एक ही कंटेंट को बार बार Repeat करना और उससे Search Engine में इंडेक्स करवाने से आपकी वेबसाइट पर बुरा प्रभाव पड़ेगा.

ऐसे में सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट की Search Rank Decrease कर देता है, अगर आपकी वेबसाइट में भी ऐसा ही है तो उससे जल्दी से Fix करने की कोशिस करे और जितने भी डुप्लीकेट कंटेंट आपकी वेबसाइट में है उन्हें डिलीट करें.

बहुत सारे टूल है जहाँ से आप Fake Duplicate Content Find करने में अगर आपको कोई भी दिक्कत आ रही है तो मुझे कमेंट में सुझाये जिससे इसके बारे में और जानकारी आपके लिए लेकर आऊंगा.

11. SEO Friendly URLs

Research से पता चलता है की गूगल छोटे और स्पष्ट Post URL को पसंद करता है, इसलिए अपने ब्लॉग पोस्ट के URL को छोटा रखे और उसके अंदर अपने Target Keyword को इस्तेमाल करें।

शोध कहता है 3-5 शब्दों वाले URL Google में उच्च रैंक करते हैं इसके अलावा, Google को Friendly URL पसंद हैं:

उदाहरण के लिए:

sahu4you.com/on-page-seo-techniques/ (छोटा और सटीक URL)

बड़े या URL से बचें:

उदाहरण के लिए:

sahu4you.com.com/p=123 (डायनामिक URL)

उदाहरण के लिए:

sahu4you.com/17/7/19/cat=SEO/on-page-seo-techniques-for-best-seo-in-2019 (लंबे URL)

Bonus Tip: अपने पोस्ट के मुख्य टाइटल में Focus Keyword को जरूर जोड़े जैसा की इस पोस्ट के टाइटल में हमने “On Page Seo Techniques” को टारगेट किया है इसलिए पेज URL: sahu4you.com/on-page-seo-techniques/ होना चाहिए।

12. Regularly Update Posts

ब्लॉग को अपडेट करते रहने आपके ब्लॉग के ट्रैफिक और SEO को Improve करता है, नए ब्लॉगर अक्सर यह गलती कर देते है की वो नए पोस्ट लिखते जाते है और पुराने पोस्ट पर ध्यान नहीं देते, पर अगर आप पुराने पोस्ट को अपडेट करते है तो आप उन पर अच्छा ट्रैफिक ले सकते है।

Google उन ब्लॉगों को प्राथमिकता देता है जो नियमित रूप से पोस्ट प्रकाशित करते हैं। यदि आप सप्ताह में 2 पोस्ट प्रकाशित करते हैं, तो बाकि दिनों में पुराने लेखो को अपडेट करें जिससे आपको On Page SEO में अच्छी Rankings मिलेगी।

13. Proper Interlinking

Internal Linking तो सभी करते है और Seo के लिए Internal Links बहुत महत्वपूर्ण भी है। पर सही तरह से Internal-linking करना उससे भी ज्यादा महत्व रखता है।

मैंने सुना है की 2 Internal Links इतनी प्रभावी होती की वो External Link जितना प्रभाव डालती है और अच्छी Internal-Linking आपके ब्लॉग के Bounce Rate काम भी Mantain रखती है।

हमेशा अपने Low Pa (Page Authority) वाले पेज पर High Pa वाले पोस्ट को Interlink करें।

14. Keyword Stuffing

Keyword Spamming को ही Keyword Stuffing कहाँ जाता है, हद से ज्यादा कीवर्ड को अपने लेख में इस्तेमाल करना और गलत तरीके से गूगल में रैंक करवाना यह सभी काली-टोपी तकनीक का हिस्सा है जिसको गूगल बिलकुल भी पसंद नहीं करता.

जरुरी है, Keyword Density को 2% से ज्यादा न रखे और एक ही कीवर्ड को बार-बार न दोहराए और जितना हो सके, उतना कीवर्ड स्टफिंग से बचें और FocusKeyword के साथ LSI Keywords On Page SEOज्यादा ध्यान दे, जिसके बारे में आप आगे इसी लेख में पढने वाले है.

Broken Links ऐसे लिंक्स होते है जो अभी Exist नहीं करते, मतलब जो अभी Deleted किये जा चुके है जिसपर क्लिक करने पर 404 Not Found Error देखने को मिलेगा, ऐसे Links को वेबसाइट में रखना On Page SEO के लिए सही नहीं है

अगर आपकी वेबसाइट में Broken Links है तो गूगल को लगेगा की आपकी वेबसाइट को अच्छे से अपडेट नहीं किया जा रहा और Broken Links आपकी साइट रैंकिंग और User Experience दोनों के लिए हानिकारक है।

टूटे हुए लिंक अर्थात Broken Links आपके Visitors के लिए ही नहीं बल्कि Seo के लिए बहुत बड़ा खतरा है, Broken Links आपके वेबसाइट और ब्लॉग के SEO पर Negative Impact डालते है।

Broken Links को हटाने के लिए आप Broken Link Checker Plugin का इस्तेमाल कर सकते है जो आपकी वेबसाइट के सभी टूटे हुए लिंक्स को ढूंढकर उन्हें हटाने का अवसर देता है।

16. Use Multimedia Content

आजकल कोई भी साधा कंटेंट पढ़ना पसंद नहीं करता साथ में आपको लेखों में छवियाँ और वीडियो सामग्री उपयोग करना चाहिए। अब आप सोच रहें होंगे की Multimedia Content से On Page SEO में फायदा लाभ होगा?

यह एक Indirect Ranking Signal है जो सीधे आपके ब्लॉग को रैंक करने में मदद नहीं पर आपके वेबसाइट पर आने वाले पाठक वेबसाइट पर अधिक समय व्यतीत करते हैं।

में उन नासमझो की तरह आपको यह कभी नहीं कहूंगा कि “1 छवि 1,000 शब्दों के बराबर होती है”  लेकिन Images और Video Content आपके लेख को आकर्षण बना देंगे।

17. Image Alt Tags

इमेज को ऑप्टिमाइजेशन करके इमेज सर्च से ट्रैफिक ले सकते है क्यूंकि फोटोज को भी इन्टरनेट पर सर्च किया जाता है, “image title” और “Alt Tags” में डाले गये कीवर्ड आपके ब्लॉग पोस्ट की फोटोज को गूगल जैसे सर्च इंजन में रैंक करवाने में मददगार है।

  • Rename Image: फोटो का नाम रखे जिससे उसके URL सही से होगा और SEO के लिए भी अच्छा है जिस से गूगल उससे अच्छे से इंडेक्स करेगा।
  • Alt Tags / File Names: इमेज को सर्च इंजन में अच्छे से इंडेक्स करने के लिए हर एक इमेज में Alt Tags लिखे जिससे गूगल सर्च इंजन फोटो की जानकारी मिलेगी ।
  • Add Caption: इमेज के बारे में लिखे जिससे विसिटोर्स को पता चलेगा की यह फोटो किस बारे में है।

18. Post Long Length Content

वो आर्टिकल जिसमे ज्यादा शब्द नहीं होते, गूगल उन्हें कम जानकारीपूर्ण कंटेंट के रूप में देखता है और उनके मुकाबले आधिक जानकारी वाले लेखो को ज्यादा महत्व देता है।

अगर आप किसी टॉपिक पर लिख रहे है तो सबसे पहले तो आपको उसके बारे में अच्छी जानकारी होना जरुरी है।

आप जिस बारे में लिख रहें है उसपर अगर पहले से कोई लेख लिखाअ हुआ है तो उससे एनालिसिस करें, और उससे बेहतर लिखने की कोशिस करें और कम से कम 1200 शब्दों का पोस्ट लिखे जिससे आपके लिए गये पोस्ट के साथ उसके अन्य कीवर्ड भी सर्च इंजन में रैंक हो।

19. Optimize Meta Descriptions

यह आपके पोस्ट का छोटा सा विवरण होता है जिसे आप अपने पोस्ट की Descriptionsदेस्क्र के रूप में Search Engine में दिखा सकते है, Meta Description आपके ब्लॉग की क्लिक दर (CTR) को बढ़ने में मदद करते है और गूगल में सर्च करने वालो को आपके पोस्ट के बारे में जानकारी देते है.

अगर आपका Meta Description अच्छा और फ्रेंडली नहीं है तो आप संभावित पाठको को खो सकते है, इसलिए अपने पोस्ट के विवरण में पोस्ट के बारे में बताये की यहं किस बारे में है जिससे रीडर्स को आपके पोस्ट पर क्लिक अवस्य करेंगे.

20. Spray LSI Keywords

LSI Keywordsका पूरा नाम Latent Semantic Index Keywords होता है, जिसे Hummingbird Update के बाद Google Algorithms ने इन्टरनेट पर इंडेक्स होने वाली वेबसाइट को गहराई और बेहतर तरीके से जाँच करना और एनालिसिस करना शुरू कर दिया,

एक समय था जब आप किसी एक कीवर्ड को फोकस करके आसानी से उससे Google Search Engine के पहले पेज पर दिखा सकते थे पर अब वो काम नहीं करता क्यूंकि अब आपको इतनी आसानी से Google Ranking थोड़े देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *