दोस्तों क्या आप भारत के पंचवर्षीय योजना से जुडी जानकारी के बारे में जानना चाहते हैं ? जानिए यह पहली बार कब शुरु हुआ, इसका उद्देश्य क्या है और कितनी अवधी की होती है | आज India’s Economy का एक बड़ा हिस्सा पंचवर्षीय योजनाओं पर Based है ।

देश आज़ाद होने के बाद India के First Prime Minister “जवाहरलाल नेहरू” ने Socialist Economic Model को बढ़ावा दिया।

Five Year Plans of India in Hindi
Five Year Plans of India in Hindi

उन्होंने कई सारे महत्वपूर्ण Financial Decision भी लिए जिनमे से एक “पंचवर्षीय योजना” की शुरुआत भी थी । 1951 से लेकर अब तक भारत में जितने भी पंचवर्षीय योजना लागू किये गए है हर योजना का कुछ ना कुछ उद्देश्य रहा है । भारत की इस Scheme की सुरुवात 1951 में हुई थी ।

भारत में कुल मिला कर अभी तक में 11 पंचवर्षीय योजनायें लागू हो चुकी हैं और 12वीं योजना 2017 में ख़त्म हो चुकी है और 13 वीं पंचवर्षीय योजना शुरु होने वाली है । आइये जानते है की अब तक के लागू किये गए पंचवर्षीय योजनाओं के क्या क्या उद्देश्य रहे है ।

पंचवर्षीय योजनाओं के उद्देश्य – Objective Of Panchvarshiya Scheme

पहली पंचवर्षीय योजना

India का First पंचवर्षीय योजना 1951 में Start हो कर 1956 तक चला था । इस योजना को India के First Prime Minister “जवाहरलाल नेहरू” जी द्वारा 8 दिसंबर 1951 में संसद में पेश किया गया था । इस योजना में कृषि क्षेत्र पर ज्यादा ज़ोर डाला गया था क्योंकि उस Time में अनाज की कमी एक बहुत बड़ी चिंता का विषय था ।

दूसरी पंचवर्षीय योजना

ये योजना 1956 से लेकर 1961 तक चला । इस योजना का Main Purpose समाजवादी समाज (Socialist Society) का Establishment करना था । इस योजना में Heavy And Basic Industries पर ज्यादा जोर डाला गया था ।

तीसरी पंचवर्षीय योजना

ये योजना 1961 से लेकर 1966 तक चला । इस योजना का Main Purpose अर्थव्यवस्था को Self Dependent बनाना था ।

चौथी पंचवर्षीय योजना

ये योजना सन 1969 से लेकर 1974 तक चला । इसका मूल उद्देश्य दृढ़ता के साथ विकास और आर्थिक आत्मनिर्भरता बनाना था । इस योजना में National Income की 5.7% Yearly Average Growth Rate प्राप्त करने का Target रखा गया था । उसके बाद इस योजना में ‘सामाजिक न्याय के साथ विकास’ और ‘ग़रीबी हटाओ’ भी जोड़ दिया गया।

पांचवी पंचवर्षीय योजना

इस योजना की अवधि 1974 से लेकर 1978 तक रही । इसका मुख्य उद्देश्य गरीबी को समाप्त करना और लोगो को Self Dependent बनाना था ।

छठी पंचवर्षीय योजना

इस योजना की अवधि 1980 से 1985 तक रही । इस योजना का मूल उद्देश्य गरीबी हटाने के साथ साथ रोजगार में वृद्धि लाना भी था। इसके अलावा जन Consumption Items Ready करने वाले Micro And Small Enterprises को बढ़ावा देना भी इस योजना का उद्देश्य रहा ।

सातवी पंचवर्षीय योजना

इस योजना की अवधि 1985 से लेकर 1990 तक रही । इस योजना में अनाज में वृद्धि लाना, रोजगार के क्षेत्रों का विस्तार करना और Productivity को बढ़ाने वाली Policies And Programs पर जोर देने का निश्चय किया गया था ।

आठवी पंचवर्षीय योजना

ये योजना 1992 से लेकर 1997 तक चला । इसका मूल उद्देश्य Human Resources का विकास करना था । केन्द्र में Political Instability की वजह से “आठवीं पंचवर्षीय योजना” 2 Years लेट से शुरु की गई । इस योजना का Description तब Accept किया गया था जब India एक Heavy Financial Crisis से गुजर रहा था ।

नौवीं पंचवर्षीय योजना

ये योजना 1997 से लेकर 2002 तक चला । इसका Main Purpose उचित विभाजन व Equality के साथ Development करना था । इस योजना में विकास का 15 साल पुराना परिप्रेक्ष्य शामिल किया गया था । ये योजना अपने सभी Economic Objectives को हासिल करने में असफल रहे ।

दसवीं पंचवर्षीय योजना

ये योजना 2002 से लेकर 2007 तक चला । इसका Main Purpose देश से गरीबी और बेरोजगारी को ख़त्म करके हर इंसान की Income को 2 गुना करना था । इस योजना में First Time States के साथ Discussion कर के State Wise Growth Rate तय की गई थी । इसके साथ ही इस योजना में First Time Economic Targets के साथ Social Targets पर भी निगरानी की Arrangement की गयी थी । यही नहीं योजना के तहत सभी Main Rivers को साल 2007 तक और दुसरे अनुसुचित जल क्षेत्रों को साल 2012 तक साफ़ कराने का निर्णय लिया गया ।

ग्यारहवी पंचवर्षीय योजना

ये योजना सन 2007 से लेकर सन 2012 तक चला । इसका Main Purpose सबसे तेज और Overall Development करना था । इस योजना के तहत 2009 तक सभी के लिए पीने का स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने के साथ साथ सभी गाँवों तक बिजली पहुँचाने
का निर्णय भी लिया गया । इसके अलावा इस योजना के तहत और भी कई निर्णय लिए गए ।

बारहवी पंचवर्षीय योजना

बारहवी पंचवर्षीय योजना का कार्यकाल 2012 से Start हुआ था और ये अभी तक चल रहा है । ये योजना 2017 तक चलेगी । इस योजना का Main Purpose विकास का लक्ष्य 10 % करना है ।

भारत में और भी कई योजनाओं का संचालन होता है | जिनमे से ये निम्नलिखित कुछ शामिल हैं:

अगर आपके पास भी कुछ इस योजना से जुडी कोई जानकारी है जो की आप यहाँ जरुर बतालए |

About Vikas Sahu

मैं एक पेशेवर ब्लॉगर हूँ, इस ब्लॉग पर आप उन लेखों को पढ़ेंगे जिनसे आप अपना करियर और पैसा दोनों ऑनलाइन बना सकते हैं।