स्टडी मटीरीयल

आरएएस कैसे बने (RAS) क्या है, आरएएस एग्जाम की जानकारी

क्या आपको जानकारी है की RAS क्या है और इस Exam की तेयारी किस प्रकार की जाती है, आज हम यहाँ रस की फुल फॉर्म से लेकर इससे जुडी जानकारी जैसे Selection, Eligibility, Syllabus इत्यादि Information. इसे राजस्थान प्रशासनिक सेवा के रूप में जाना जाता है।

यह भारत के राजस्थान राज्य का नागरिक सेवा में सर्वोच्च है। कैडर आमतौर पर भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) की तुलना में रैंक में कम पद से शुरू करते हैं।

RAS Full Form in Hindi

RAS Full Form in Hindi

परन्तु मेहनत एवं Experience के आधार पर RAS अधिकारियों धीरे-धीरे आईएएस अधिकारियों के बराबर का पद ले सकते है।

RAS क्या है? जानिए RAS Officer कैसे बने?

RAS Full Form in Hindi


RAS – Rajasthan Administrative Service


आर ए एस – राजस्थान प्रशासनिक सेवा

RAS के लिए होने वाले परीक्षा का आयोजन राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा किया जाता है, यह राजस्थान सरकार का एक संगठन है जिसका संचालन राजस्थान सरकार के द्वारा किया जाता है।

RAS अधिकारियों ने उप-जिला स्तर पर विभिन्न पदों की व्यवस्था की है जबकि राजस्व प्रशासन और कानून-व्यवस्था के रखरखाव के अलावा विभिन्न सरकारी सेवाओं को वितरित किया है।

RAS के लिए चयन प्रक्रिया (Selection Process)

RAS पद की नियुक्ति के लिए राजस्थान सरकार के संगठन राजस्थान लोक सेवा आयोग के द्वारा तीन चरण में परीक्षा लिया जाता है। पहले चरण में Preliminary Examination होता है जो Objective होता है इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले अभियार्थी को Mains Examination के लिए चयनित किया जाता है।

Mains में कुल चार पेपर होता है जो Subjective होता है। इस परीक्षा को उतीर्ण करने वाले अभियार्थी को Personal Interview के लिए एक तारीख एवं समय दिया जाता है जो उसका आखरी चयन परिक्रिया होता है। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर अभियार्थी को RAS का पद दिया जाता है।

RAS के लिए Eligibility क्या है?

जिस प्रकार किसी भी कार्य के लिए योग्यता का निर्धारण किया जाता है ठीक उसी प्रकार RAS के लिए आवेदन करने वाले अभियार्थी में निम्न योग्यता का होना अनिवार्य है।

  • अभियार्थी भारत का नागरिक हो।
  • किसी भी मान्यता प्राप्त University से स्नातक पास हो।
  • अभियार्थी की उम्र 21 से 35 वर्ष होनी चाहिए।

RAS के लिए पाठ्यक्रम (Syllabus)

अगर आप RPSC के द्वारा ली जाने वाले RAS पद की तैयारी करना चाहते है तो आपको इसके लिए निम्न विषयों पर अध्ययन करना अति आवश्यक है।

  • राजस्थान का इतिहास, कला, संस्कृति, साहित्य, परम्परा एवं विरासत
  • भारत का इतिहास प्राचीनकाल एवं मध्यकाल
  • विश्व एवं भारत का भूगोल
  • प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र भारत का भूगोल
  • राजस्थान का भूगोल
  • भारतीय संविधान, राजनीतिक व्यवस्था एवं शासन प्रणाली
  • संवैधानिक विकास एवं भारतीय संविधान
  • भारतीय राजनीतिक व्यवस्था एवं शासन
  • लोक नीति एवं अधिकार
  • राजस्थान की राजनीतिक एवं प्रशासनिक व्यवस्था
  • अर्थशास्त्र के मूलभूत सिद्धान्त
  • आर्थक विकास एवं आयोजन
  • मानव संसाधन एवं आर्थिक विकास
  • राजस्थान की अर्थव्यवस्था
  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी
  • तार्किक दक्षता
  • मानसिक योग्यता
  • आधारभूत संख्यात्मक दक्षता
  • समसामयिक घटनाएँ

RAS परीक्षा की जानकारी

RAS परीक्षा भी तीन चरणों में संपन्न होती है। इन तीन चरणों में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार ही राजस्थान में प्रशासनिक अधिकारी बन सकते हैं।

आइए जानते हैं कि आरएएस परीक्षा के तीन चरण कौन से हैं-

1. प्रारंभिक परीक्षा:

इसे प्रारंभिक परीक्षा भी कहा जाता है। इस परीक्षा में, उम्मीदवारों से सामान्य ज्ञान और तर्क से प्रश्न पूछे जाते हैं। यह परीक्षा ऑब्जेक्टिव टाइप की होती है। इस परीक्षा को पास करने के बाद ही आप परीक्षा के अगले चरण में जा सकते हैं।

2. मेन्स परीक्षा (Mains)

इसे मुख्य परीक्षा भी कहा जाता है। आरएएस की यह परीक्षा लिखित में होती है। इस परीक्षा में, अभ्यर्थी से स्नातक के विषय से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, उम्मीदवार को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है।

3. Interview (साक्षात्कार)

यह आरएएस की परीक्षा का अंतिम चरण है। प्री और मेन्स परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को ही इसके Interview के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार में आए मार्क्स के अनुसार, एक सफल उम्मीदवार का चयन किया जाता है।

RAS में उम्मीदवारों का अंतिम चयन प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और Interview में प्रदर्शित होने वाले अंकों की मेरिट बनाकर किया जाता है।

अंतिम चयनित उम्मीदवारों को अधिकारी बनने के लिए प्रशिक्षण के लिए भेजा जाता है। प्रशिक्षण पूरा करने के बाद, उन उम्मीदवारों को राजस्थान के भीतर विभिन्न जिलों में पोस्टिंग के लिए भेजा जाता है।

RAS के लिए आयु

राजस्थान प्रशासनिक सेवा (आरएएस) के लिए, उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को नियमानुसार छूट दी जाती है।

RAS के लिए वेतन

राजस्थान में एक आरएएस अधिकारी का वेतन रु। 15600 – 39100 (जीपी – 5400) है।

निष्कर्ष:

आज की पोस्ट के माध्यम से, आप जान गए हैं कि RAS Kya Hai और इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको हिंदी में RAS Definition In Hindi में जानकारी दी है। आशा है कि आपको RAS परीक्षा की पूरी जानकारी मिल गई होगी। हमने आपको इस पोस्ट में RAS कैसे बने और RAS Exam की हिंदी में जानकारी दी है, और आपने कितना सिखा हमें जरूर बताएं। आपको इस पोस्ट के माध्यम से RAS के बारे में भी पता चला।

What Is RAS In Hindi आज मैंने इस पोस्ट में सीखा। आपको इस पोस्ट की जानकारी अपने दोस्तों को भी देनी चाहिए। तथा Social Media पर भी यह पोस्ट ज़रुर Share करे। इसके अलावा, कई लोग इस जानकारी तक पहुंच सकते हैं।

हमारी पोस्ट RAS Full Form In Hindi, आपको कोई समस्या नहीं है या आपका कोई सवाल नहीं है, हमें Comment Box में Comment करके इस पोस्ट के बारे में बताएं। हमारी टीम आपकी मदद जरूर करेगी।

यदि आप हमारी वेबसाइट के नवीनतम अपडेट प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको हमारी Sahu4You की Website को Subscribe करना होगा। नई तकनीक के बारे में जानकारी के लिए हमारे दोस्तों, फिर मिलेंगे आपसे ऐसे ही New Technology की जानकारी लेकर, हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद, और अलविदा दोस्तों आपका दिन शुभ हो।

About the author

Vikas Sahu

मैं एक पेशेवर ब्लॉगर हूँ, इस ब्लॉग पर आप उन लेखों को पढ़ेंगे जिनसे आप अपना करियर और पैसा दोनों ऑनलाइन ब ना सकते हैं.. read more

Leave a Comment