Home » Lifestyle » Health » कच्चा दूध पीने के फायदे / नुकसान

कच्चा दूध पीने के फायदे / नुकसान

कच्चे दूध में कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन होते हैं जो हड्डियों, मांसपेशियों और रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए अच्छे हैं। इसके साथ ही कुछ दुष्प्रभाव भी हैं।

दूध में कई पौष्टिक तत्वों की उपस्थिति होती है जो मानव शरीर को स्वस्थ और सुंदर बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसका सेवन हमारे शरीर की हड्डियों को स्वस्थ बनाने में मदद करता है, और शारीरिक और मानसिक विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

दूध इंसानों और जानवरों दोनों के लिए फायदेमंद है। दूध में मुख्य रूप से ऊर्जा, कार्बोहाइड्रेट, शर्करा, लैक्टोज, वसा, प्रोटीन, विटामिन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सोडियम और पानी होते हैं, जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

  • कामिनी क्या है? कामिनी फूल के फायदे, उपयोग
  • जीवामृत क्या है? जीवामृत की विधि और फायदे
  • पिप्पली के फायदे, उपयोग और स्वास्थ्य लाभ

दूध का उपयोग मनुष्यों द्वारा कच्चा यानी बिना उबाले और उबाल कर किया जाता है। इन दो प्रकार के दूध का उपयोग मानव शरीर को विभिन्न तरीकों से प्रभावित करता है। तो चलिए आज जानते हैं कच्चे दूध के फायदों के बारे में।

कच्चा दूध पीने के फायदे

कच्चा दूध का सेवन शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है, लेकिन यह हमारी त्वचा को स्वस्थ और स्वस्थ रखने में मदद करता है। कच्चे दूध में उबले हुए दूध की तुलना में अधिक प्राकृतिक तत्व होते हैं, जो हमारी त्वचा की देखभाल निम्नलिखित तरीकों से करते हैं।

#1 आपकी त्वचा टोन का निर्धारण

अगर आप अपनी त्वचा के टोन को बरक़रार रखना चाहते हैं तो कच्चे दूध में 5-10 बूंद नींबू के रस को मिला ले। अगर आपकी त्वचा सुखी और बेजान है तो दूध में थोडा गुलाब जल मिला ले और अब इस मिश्रण को आपने गर्दन और चेहरे पर लगाकर छोड़ दे। 15 मिनट के बाद इसे पानी से हटा दिया गया। अगर आपकी त्वचा शुष्क है तो चेहरे को धोने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करे और ऑइली है तो गर्म पानी का इस्तेमाल करे।

#2 ड्राई स्किन के लिए मॉइस्चराइज़र

कच्चा दूध हमारी त्वचा को अंदर से कंडीशनिंग और मॉइस्चराइज करता है, इसके लिए आपको कच्चा दूध में 2-3 चम्मच बेसन को मिलाकर अच्छे से मिक्स कर ले और इसमे थोडा शहद और पानी को डालकर मिलाकर मिश्रण तैयार कर ले और इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। गर्दन पर लगाया और इसे 10 मिनट के बाद हल्के गुनगुने पानी से धो लें।

#3 तैलीय त्वचा के लिए क्लीन्ज़र

कच्चा दूध हमारी त्वचा के लिए एक अच्छा टोनर, मॉइस्चराइज़र के साथ साथ यह अच्छा क्लीज़र भी है। अगर आपका चेहरा ऑइली है, चेहरे पर गंदगी है या ब्लैकहेड्स है तो इसके लिए आप कच्चे दूध में मूँग को पिस कर कीट बना ले और इसे चेहरे पर लगाकर 10-15 मिनट के लिए छोड़ दे। 10 मिनट के बाद चेहरे पर लगे पेस्ट की मदद से चेहरे को स्क्रब करे और इसे पानी से धो ले।

#4 टैन रिमूवल फेस वाश

बिना दूध मानव त्वचा पर एंटी-टैन एजेंट के रूप में कार्य करता है। 5-6 बादाम और 5-6 खजूर को कच्चे दूध में एक घंटे तक भिगोएँ और फिर इन तीनो को अच्छे से मिलाकर एक पेस्ट तैयार लें। तैयार पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाए और इसे 15-20 मिनट तक रहने दे। 20 मिनट के उपरांत हल्के पानी ले कर पेस्ट की मदद से चेहरे को स्क्रब करे & सामान पानी से चहरे पर लगे हुए पेस्ट को हटा दें।

#5 मुँहासे प्रवण त्वचा के लिए अच्छा है

त्वचा में होने वाले मुहासे को ठीक करने के लिए कच्चा दूध एक एजेंट के रूप में कार्य करता है। यह त्वचा से अतिरिक्त तेल को निकालता है और शुष्क त्वचा को ठीक करता है। अगर आप अपनी त्वचा पर निकले मुहासों का इलाज करना चाहते हैं तो इसके लिए 2-3 चम्मच मुल्तानी मिट्टी को कच्चे दूध के साथ एक पेस्ट तैयार कर ले, अगर आपकी त्वचा शुष्क है तो इसके लिए आप मिश्रण में गुलाब जल मिला सकते हैं। अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाए और थोडा समय के लिए छोड़ दे और इसे गुनगुने पानी से धो ले।

#6 ग्लोइंग स्किन क्रीम

हर कोई लम्बे समय तक जवा दिखना पसंद करता है। अगर आप भी स्वयं को जवा देखने पसंद करते हैं तो कच्चे दूध में एक चुटकी हल्दी, थोडा सा केसर पाउडर और बेसन को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार कर ले और इस पेस्ट को अपने चहरे पर लगाया और थोड़े देर के बाद इसे पानी की मदद से हटा दें। दे। इससे आपकी त्वचा का ग्लो बना रहेगा और आप जवा दिखेंगे।

कच्चे दूध के नुकसान

अब तक आपने पढ़ा कि कच्चा दूध इंसान की सेहत के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन इसका फायदा हर किसी को नहीं मिलता। कभी-कभी इसका हमारे स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। कच्चे दूध में मौजूद बैक्टीरिया बच्चों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक कारक हैं। दूध का सेवन करने से पहले दूध को उबालना चाहिए, अगर आप बिना गर्म किए इसका सेवन करते हैं, तो आपके शरीर में निम्नलिखित समस्या उत्पन्न हो सकती है।

  • कच्चे दूध में मौजूद बैक्टीरिया दस्त, उल्टी, बुखार, पेट में ऐंठन और सिरदर्द पैदा करते हैं जो शरीर को कमजोर और कमजोर बनाते हैं।
  • दूध में मौजूद विटामिन डी हड्डियों को मजबूत बनाता है, लेकिन यह गर्म दूध की तुलना में कच्चे दूध में कम होता है।
  • दूध का सेवन सभी बच्चों के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन एक शोध से पता चला है कि दूध में माइक्रोबियल कंटामेंट होते हैं जो बच्चों, गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गों में खाद्य जनित बीमारी का कारण बन सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *