SEO क्या है? शुरू करने के लिए गाइड What is SEO in Hindi

SEO Kya Hai? ऑनलाइन सर्च इंजन और वेबसाइट, ब्लॉग और फ़ोरम में इसकी कीमत क्या है, जो हर किसी वेबमास्टर के को नहीं पता, हम संक्षिप्त शब्दों में SEO के बारे में जानकारी देंगे, ताकि SEO करना और SEO को समझना आसान हो जाए।

एसईओ का पूरा नामसर्च इंजन की बात करे तो ऑनलाइन बहुत सारे सर्च इंजन है जैसे Google, Yahoo और Bing, जो हमे हर तरह की इनफार्मेशन प्रोवाइड करते है जब भी हम कोई कीवर्ड गूगल में सर्च करते है तो हमें उसका सही जवाब मिल जाता है। एसईओ आपके व्यवसाय को बढ़ाने में मदद करता है

Full Form of SEO is “Search Engine Optimization

एसईओ का पूरा नामसर्च इंजन की बात करे तो ऑनलाइन बहुत सारे सर्च इंजन है जैसे गूगल, याहू और बिंग, जो हमे हर तरह की इनफार्मेशन प्रोवाइड करते है जब भी हम कोई कीवर्ड गूगल में सर्च करते है तो हमें उसका सही जवाब मिल जाता है।

SEO और Affiliate Marketing दोनों का एक ही साइट पर Relevent, High Quality वाले ट्रैफिक को टारगेट करके अपने व्यूअर-शिप और बिक्री को ज्यादा करने में सहायक है।

Search Engine Optimization की ही तकनीक के द्वारा सर्च इंजन कैसे तय करता है की टॉप पर कौन सा पेज दिखाना है। इसका निर्णय एसईओ करता है

क्या SEO करना आसान काम है?

SEO एक ऐसी प्रक्रिया है जो इंटरनेट पर आपके ब्लॉग और वेबसाइट की दृश्यता में सुधार करती है।

शुरू में एसईओ पकाऊ लगता है, समय के साथ आगे बढ़ते है तो आप अपने ब्लॉग पोस्ट और वेबसाइट को कैसे सर्च इ इंजन में ऑप्टिमाइजेशन करना सिख जायेगे।

SEO क्या है? Search Engine Optimization

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन एक तरीका है जो किसी वेबसाइट या वेब पेज पर सर्च से आने वाला ट्रैफिक की गुणवत्ता और उसकी मात्रा को बेहतर बनाने की प्रक्रिया है।

SEO सर्च इंजन के अनुकूलन का पूरा तरीका है। सरल कहें, जो कुछ भी आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट पोस्ट को सर्च इंजन में पहले पृष्ठ पर प्रदर्शित करने के लिए करते हैं वह है SEO है।

SEO कितने प्रकार के होते हैं?

अगर आपका ब्लॉग नहीं है तो आपको यह पोस्ट अंत तक पढ़ना चाहिए जिसमें हमने SEO के बारे में पूरी जानकारी दी है SEO दो प्रकार की होती है:

  1. On page SEO
  2. Off page SEO

यदि आपकी वेबसाइट पहले सर्च पेज पर दिखाई देती है, तो आपके पास वेब ट्रैफ़िक और खोज ट्रैफ़िक वृद्धि होगी, ऑनलाइन व्यापार बढ़ता है और ऑफ़लाइन कमाई भी एसईओ को दो प्रकार से किए गए Search Engine Optimization पर कुछ हद तक निर्भर करती है।

On-Page SEO और Off-Page SEO का मतलब है कि ऑन-पेज एसईओ आपके ब्लॉग पोस्टों में Inter-Linking वेबसाइट की Loading Speed में शीर्षक जोड़कर सभी Tags और Keywords को Title Tag Permalink को Optimize करना है।

SEO कैसे काम करता है?

हम अपनी वेबसाइट को लोगों के लिए सुलभ बनाने के लिए SEO का उपयोग करते हैं।

मान लीजिए मैंने एक वेबसाइट बनाई है और उसमें सबसे अच्छी उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री प्रकाशित करता है, लेकिन अगर मैं एसईओ का उपयोग नहीं करता हूं, तो मेरी वेबसाइट लोगों तक नहीं पहुंच पाएगी और मेरी वेबसाइट बनाने का कोई लाभ नहीं होगा।

What is SEO in Hindi

Business के लिए SEO कैसे काम करता है?

यदि आप SEO का उपयोग नहीं करते हैं, जब भी कोई उपयोगकर्ता कीवर्ड खोजता है, तो यदि आपकी वेबसाइट में उस कीवर्ड से संबंधित कोई सामग्री है, तो उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट तक नहीं पहुंच पाएगा क्योंकि खोज इंजन हमारी साइट को खोजने में सक्षम नहीं होगा ना ही हमारी वेबसाइट।

On Page SEO Techniques, SEO Optimization, Tips and Tricks
10+ On Page SEO Techniques In Hindi 2019

SEO को समझना इतना मुश्किल नहीं है, अगर आप इसे सीख लेते हैं, तो आप अपने ब्लॉग को बहुत बेहतर बना सकते हैं और Search Engine में इसके मूल्य को बढ़ा सकते हैं।

जब आप SEO के बाद अपने ब्लॉग के लिए क्वालिटी कंटेंट प्रकाशित करते हैं, तो आपको उसका रिजल्ट तुरंत नहीं दिखेगा, इसके लिए आपको धैर्य रखना होगा और अपना काम करते रहना होगा। क्योंकि सब्र का फल मीठा होता है और आपको अपनी मेहनत का रंग जरूर दिखेगा।

SEO टूल्स कैसे काम करते हैं जैसे कि Ranking या Traffic के लिए एसईओ कैसे करना है, यह महत्वपूर्ण क्यों हो जाता है। आइए हम Search Engine Optimization के महत्व के बारे में अधिक जानते हैं:

  • अधिकांश उपयोगकर्ता अपने प्रश्नों के उत्तर पाने के लिए इंटरनेट में Search Engines का उपयोग करते हैं।
  • ऐसी स्थिति में, वे Search Engine द्वारा दिखाए गए Top Results पर अधिक ध्यान देते हैं। ऐसे में अगर आप भी लोगों के सामने आना चाहते हैं, तो आपको ब्लॉग को रैंक करने के लिए SEO की मदद भी लेनी होगी।
  • Blog SEO केवल Search Engines के लिए ही नहीं है, बल्कि Best SEO Practice होने से, यह उपयोगकर्ता अनुभव को बढ़ाने में मदद करता है और आपकी वेबसाइट की उपयोगिता को भी बढ़ाता है।
  • उपयोगकर्ता ज्यादातर केवल शीर्ष परिणामों पर भरोसा करते हैं और इससे उस वेबसाइट का विश्वास बढ़ता है। इसलिए एसईओ के संदर्भ में जानना बहुत जरूरी है।

एसईओ आपकी साइट के Social Signals के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि जो लोग आपकी साइट को Google जैसे Search Engine में देखते हैं, तो वे ज्यादातर उन्हें सोशल मीडिया जैसे कि Facebook, Twitter, Pinterest में साझा करते हैं।

किसी भी साइट के Website Traffic को बढ़ाने में SEO महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

SEO आपको किसी भी प्रतियोगिता में आगे रहने में मदद करता है। उदाहरण के लिए, यदि दो वेबसाइट समान चीजें बेच रही हैं, तो जो वेबसाइट SEO Optimized है, वह अधिक ग्राहकों को आकर्षित करती है और उनकी बिक्री में भी वृद्धि होती है, जबकि अन्य ऐसा करने में सक्षम नहीं होते हैं।

On-Page SEO

कुछ ब्लोग्गेर्स की सोच होती है की केवल एक अच्छा Content लिखने से वो सर्च इंजन में अच्छी रैंक पर आ जायेगा और आपको Web Traffic मिलना स्टार्ट हो जायेगा पर Search Engine के अल्गोरिद्म सेट होते है उन्हें फॉलो करना काफी हद तक महत्वपूर्ण होता है.

On Page SEO को Basic और Starter SEO भी कहा जाता है। इसमें आपको अपने ब्लॉग पोस्ट को SEO के टेक्टिक्स के हिसाब से ऑप्टिमाइज़ करना होता है:

  • अपने पेज के टाइटल और पेज कॉपी में कीवर्ड का उपयोग करना।
  • SERP के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट के meta description ऑप्टिमाइज़ करना।
  • HTML कोड और ALT Tags का उपयोग करना।

On Page SEO Optimization क्यों जरुरी है?

Google जैसे Search इंजन में अपने कंटेंट को हाई कॉम्पिटीसन में First Page पर लेकर आना एक Challenge जैसा होता है उसके लिए आपको अपने कंटेंट को SEO के साथ ऑप्टिमाइज़ करना होगा, ऐसे में हर एक ब्लॉगर के लिए SEO करना जरुरी होता है और इस पोस्ट में SEO Optimization Tips को अच्छे से आपको सिखाऊंगा.

कंटेंट को बेहतर पोजीशन देने के लिए LSI Keyword (अव्यक्त अर्थ सूचकांक) का इस्तेमाल पोस्ट में करें जिससे Similar Keywords के बीच का संबंध Google को दिखा सके जिससे आपकी कंटेंट को अच्छी वैल्यू मिलेगी.

Off-Page SEO

Offside SEO और Off-Page SEO के साथ, इसका मतलब है कि अपनी वेबसाइट को दूसरी वेबसाइट पर काम करके विकसित करना, इसके लिए वेबसाइट को आउटबाउंड लिंक्स, बैकलिंक और गेस्ट पोस्ट, सोशल मीडिया ट्रैफ़िक, वेब सबमिशन तथा अन्य ब्लॉग टिप्पणी का उपयोग करके विकसित करने की तकनीक को Offpage SEO कहते है।

  1. Search Engine Submission: अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में अच्छे से सबमिट करें जिससे सभी सर्च इंजन आपके ब्लॉग की सभी ब्लॉग पोस्ट को Crawl करके इंडेक्स कर पाए
  2. Bookmarking for SEO: आपके ब्लॉग या वेबसाइट के पेज को बुकमार्क की वेबसाइट पर एड करना चाहिए जिससे आपकी वेबसाइट के अच्छे लिंक बन पाये।
  3. Directory Submission: अपने ब्लॉग वेबसाइट को डायरेक्टरी सबमिशन वेबसाइट पर सबमिट करें और ध्यान रहे वो नहीं डैडी वेबसाइट पर सबमिट करें जिनकी हाई PR अथॉरिटी और वैल्यू अच्छी हो।
  4. Social Media Sharing: अभी आप अपनी वेबसाइट पर कुछ नया कंटेंट पब्लिश करते है तो उसे सभी सोशल मीडिया वेबसाइट जैसे फ़ेसबुक ट्विटर, टम्बलर और पिनटेरेस्ट पर भी शेयर करें जिससे ससि मीडिया में आपके ब्लॉग पोस्ट की विजिबिलिटी बढे।
  5. Classified Submission: आप प्रश्न और उत्तरों के साथ वेबसाइट पर जा सकते हैं और कोई भी प्रश्न पूछ सकते हैं और अपनी साइट पर एक लिंक डाल सकते हैं।
  6. Blog Comments: आप अन्य ब्लॉग पर कॉमेंट करके बैकलिंक बना सकते हैं, कॉमेंट द्वारा बेहतरीन बनाना सबसे आसान और मुफ़्त तरीक़ा है।
  7. Guest Posting: आप अपने से मिलती जुलती वेबसाइट पर है गेस्ट पोस्ट करके वहाँ से अच्छे लिंक बना सकते हैं गेस्ट पोस्टिंग आपको प्राकृतिक रूप से आपको अच्छे बैकलिंक्स देता है।

SEO Learning हर किसी के लिए अच्छा है, इसके द्वारा आप अपना खुद का बिज़नेस बड़ा सकते हैं और SEO Jobs आपके लिए कई और विकल्प खोलते हैं उपयोगी Meta Tags या Quality Content, आप अच्छा ट्रैफ़िक प्राप्त कर सकते हैं।

क्या आपका ब्लॉग अभी नया है और आपके ब्लॉग पोस्ट पर अच्छा Organic ट्रैफिक नहीं आ रहा है तो आपको यह पोस्ट शुरू से लेकर अंत तक पढना चाहिए क्युकी आज के इस पोस्ट में हम ओन-पेज एसईओ तकनीकों पर चर्चा करेंगे और SEO से ब्लॉग को Optimize करने के बारे में सीखेगे और Search Engine में अपने Content को Optimize कैसे करें? अपने ब्लॉग का Traffic Increase कैसे करे?

SEO और SEM के बीच अंतर?

– SEO में हम किसी भी वेबसाइट और ब्लॉग के onpage और offpage SEO करते हैं, वेबसाइट को Google में रैंकिंग करते हैं और ब्लॉग को ऑर्गेनिक तरीके से ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक लाते हैं।u003cbr/u003e- SEM फुल फॉर्म (सर्च इंजन मार्केटिंग) है और इसमें हम अपने ब्लॉग की ब्रांड-वैल्यू बनाने के लिए इंटरनेट पर प्रमोशन और मार्केटिंग करते हैं। ऐसा करने से, हम अपनी वेबसाइट के खोज इंजन में दृश्यता को बढ़ाते हैं, इसे SEM कहा जाता है।

Marketing में एसईओ क्या है?

SEO का मतलब है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन। u0022(खोज इंजनu0022 ऑर्गेनिक u0022के रूप में भी जाना जाता है) खोज इंजन परिणामों के माध्यम से वेबसाइट ट्रैफ़िक की गुणवत्ता और मात्रा दोनों को बढ़ाने का अभ्यास है।

उसके बारे में बतायेंगे क्युकी बहुत सारे ब्लोग्स ऐसे होते है जो कितना भी अच्छा कंटेंट क्यूँ न लिखे पर उन्हें Google Search Engine से बिलकुल भी ट्रैफिक नहीं नमिलता ऐसे में मेरी बताई गयी 20+ SEO Optimization Tips आपके लिए काफी लाभदायक होगी.

तो दोस्तों आज का On Page SEO लेख यहीं खत्म होता है आज आपने SEO के बारे में बहुत कुछ सिखा जो 1% भी आपके के लिए उपयोगी है तो मुझे उसमे मुझे ख़ुशी होगी: SEO Optimization करने के Tips आपको बताया जिससे 2019 में SEO को बेहतर बनाने के लिए यह टिप्स उपयोग कर सकते है.

  • SEP और PPC
  • Seo और Adwords

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 Comments

  1. bohotbadhiya chij batayi hai apne I like it mein abhi naya hu aur sikh rha hu blog padh ke youtue pe videsos dekh ke mene apne blog pe bi inspired hoke “SEO ke baremein likha hai, aap aur bi post likhte rahiye blogiing ke baremein

  2. All posts are amazing. You have shared a very informative article, it will help me a lot, I do not expect that we believe you will keep similar posts in future. Thanks a lot for the useful post and keep it up. You can get information about any type of fasting festival, Katha, birth anniversary of great men and birthday, national and international day of politicians, actors, cricketers etc. in Hindi from my blog.