Gratuity

ग्रेच्युटी के नियम और गणना हिंदी में? क्या आप ग्रेच्युटी अधिनियम से जुडी नियम और गणना का तरीका खोज रहे हैं। आइये जानते है कि कैसे आप ग्रेच्युटी का अर्थ है, और सेवानिवृत्ति के वक्त आपको कितनी राशि मिलेगी।

What Is Gratuity in Hindi

ग्रेच्युटी एक्ट, 1972 के तहत कोई भी ऐसी कंपनी जहां 10 से ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे हों, वहां के कर्मचारियों को ग्रेच्युटी की जरूरत है। कर्मचारियों के वेतन का एक हिस्सा ग्रेच्युटी के रूप में काटा जाता है।

ग्रेच्युटी का अर्थ होता है ऐच्छिक दान होता है। “ग्रेच्युटी” ​​एक एकमुश्त-कर-मुक्त राशि होती है जो की नियोक्ता (मालिक) के पक्ष से अपने कर्मचारी को उसकी सेवा के बदले में दिया जाता है। यह राशि किसी भी कर्मचारी को उसके सेवानिवृत्ति के बाद या फिर उसके काम छोड़ने के बाद दी जाती है।

What Is Gratuity – ग्रेच्युटी क्या है?

मूल रूप से ग्रेच्युटी अधिनियम 1972 के अनुसार किसी भी कंपनी में 5 साल या फिर उससे ज्यादा लम्बे समय तक काम करने के बाद ग्रेच्यूटी के तौर पर वहाँ के कर्मचारी को एक राशि दी जाती है। सरकारी और गैर-सरकारी दोनों पक्षों में ग्रेच्युटी दी जाती है।

आम तौर पर सभी कंपनियों द्वारा बेसिक और डीए के जोड़ का 4.81% ग्रेच्युटी के रूप में काटा जाता है। कुल मिलाकर रिटायरमेंट के बाद या नौकरी छोड़ने का समय पिछले महीने के वेतन को 26 से विभाजित करना के उसे 15 से गुणा करना। गुणा करने के बाद जो राशि निकलता है, उसे ग्रेच्युटी के रूप में प्राप्त किया जाता है।

संशोधित ग्रेच्युटी अधिनियम

पहले ग्रेच्युटी की सीमा अधिकतम 3.5 लाख रुपए थी। यदि ग्रेच्युटी 3.5 लाख रुपए होती है तो वह कर मुक्त कहती है। लेकिन सातवें वेतन आयोग के नए नियमों के अनुसार ग्रेच्युटी के नियम में परिवर्तन ला कर इसकी राशि को 20 लाख तक कर दिया गया है।] और ये भी कहा गया है जब जब महंगाई भत्ता (DA) 50% तक बढ़ेगी तब तक ग्रेच्युटी की सीमा को भी 25% तक बढ़ाया जाएगा।

Gratuity Rules – ग्रेच्युटी के नियम

  • प्रत्येक नियोक्ता (नियोक्ता) जो 10 से अधिक लोगों को अपने कंपनी में कर्मचारी के रूप में रखा गया हो उसे अपने कर्मचारियों को ग्रेच्युटी राशि देना जरुरी होता है। जिनके पास 10 से कम कर्मचारी हैं, उन्हें ग्रेच्युटी देने की अव्यक्तता नहीं है।
  • यदि एक ही कंपनी में 5 साल तक आपने गुज़ार के लिए हो तब तक आपको ग्रेच्युटी का फ़ायदा मिलता है और आप ग्रेच्युटी के लिए योग्य हो जाते हैं।
  • एक कर्मचारी केवल रोजगार की समाप्ति के बाद ग्रेच्युटी पाने का पात्र है। ये समापन कार्यशाला, रिज़फ़ या फिर नौकरी स्विच का भी हो सकता है।
  • ग्रेच्युटी का लाभ किसी की मृत्यु या फिर विकलांगता पर नहीं मिलता है। इस शर्त में ग्रेच्युटी राशि नामांकित व्यक्ति या फिर कानूनी वारिस (कानूनी वारिस) को मिलती है।
  • ग्रेच्युटी राशि कर मुक्त होती है, उसपर कोई Tds नहीं लगता है और ये निर्धारित ग्रेच्युटी सूत्र के अनुसार दिया जाता है।
  • एक नियोक्ता निर्धारित सूत्र की तुलना में अपने कर्मचारी को अधिक ग्रेच्युटी भी दे सकता है। लेकिन अधिक ग्रेच्युटी पर टैक्स भी देना होगा।
  • निजी कर्मचारी को जब ग्रेच्युटी के अनुसार उनकी नौकरी में रहते हुए दी जाती है तो उन्हें कर लगता है कि जो उनके वेतन वेतन के अंतर्गत आता है।) लेकिन सरकारी नौकरी वाले को ग्रेच्युटी के साथ सेवानिवृत्ति, मृत्यु या पेंशन के रूप में मिलती है और उन्हें कर भी नहीं लगता है।
    किसी भी कर्मचारी को यदि समय से उसकी ग्रेच्युटी राशि नहीं दी गई है तो उसे भुगतान पर 9% ब्याज पाने का भी हक है।

Gratuity Calculation

अगर आप जानना चाहते है की आपको Retirement या Job छोड़ने पर आपको कितना Gratuity मिलेगा तो आप निचे दिए गए Simple Gratuity Calculator का इस्तेमाल कर के Exact Figure जान सकते हैं। आप जब भी Gratuity Calculation करने जायेंगे तो आपको इन चीजों की जरुरत पड़ेगी :

Basic Pay

  • D.A (Dearness Callowness)
  • Total Year Of Services (Must Be Minimum Of 5 Years)

जब आपके पास ये Details Ready हो तो आपको इस Gratuity Formula को उसे करना होगा जो की इस प्रकार है :

Gratuity = [ (Basic Pay + Dearness Callowness) X 15 Days X Total Years Of Service ] / 26

Example: मान लीजिये की आप किसी Company में पिछले 10 Years से काम कर रहे हैं और आपकी Salary Details इस प्रकार है:

  • Monthly Salary : 45,000
  • Basic Pay : 12,000
  • DA : 5,000

तो आपका Gratuity Calculation इस प्रकार से होगा

  • Gratuity = [(12,000 + 5,000) X 15 Days X 10] / 26
  • Gratuity = [(17,000) X 150] / 26
  • Gratuity = 25,50,000 / 26
  • Gratuity = Rs 98.0762

Note: अगर मान लीजिये आपने 10 Years और 7 Month काम किया है तो Total 11 Completed Years Count होगा।

अगर आपके पास कोई Gratuity से रिलेटेड Suggestion या Question है तो यहाँ जरुर पूछे।