Radio का अविष्कार किसने किया? रेडियो का अविष्कार किसने किया और कब किया? जानी इस्कि इतिहास, इसकी खोज किसने, तथ्य और कैस आज या FM रेडियो के रूप में हम साथ साथ हैं। पृथ्वी पर निवास करने वाले व्यक्ति के शुरुआती दौर में उनके पास किसी प्रकार की सुविधा नहीं थी।

Who Invented Radio in Hindi
Radio Ka Avishkaar Kisne Kiya Tha

अपने आवश्यकताओ के अनुसार नए नए चीजो को ढूंड निकाले और आपने जीवन शिरान को आसान बना लिया है। मनुष्यों के द्वारा कई सारे वस्तुओ की खोज की गई। आज हमारे आस पास मौजूद सभी सुख सुविधा वाले चीजो का अविष्कार मैन के द्वारा किया गया।

इंसानों के द्वारा इस्तेमाल किए गए वस्तुओ में एक वास्तु रेडियो भी शामिल है। क्या आप जानते हैं कि की रेडियो क्या होता है या इसका क्या उपयोग किया जाता है या इस वास्तु की खोज किसने की है? आज से इन सभी विषयों के बारे में हम आपको सूचित करेंगे

रेडियो आविष्कारक: Radio का आविष्कार

Radio के अविष्कार के पीछे काफी लम्बी कहानी है, इस तकनीकी का अविष्कार के लिए कई लोगो ने मेहनत की है। कई लोगो के प्रयासो के उपरांत सन 1864 में जेम्स क्लर्क मैक्सवेल ने इस बात का पता लगाया की इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स खुले आसमान में एक स्थान से दुसरे स्थान तक आसानी से भेजा जा सकता है।

एडिसन ने इस प्रभाव को Etheric Force का नाम दिया और ह्यूज ने एक छोटी रिसीवर की मदद से 500 गज तक की दुरी में स्पार्क इम्पल्स का पता लगाया। लेकिन कोई भी इस बात की पहचान नहीं कर पाया कि घटना की वजह क्या है और इस स्पार्क आवेग को विद्युत चुम्बकीय प्रेरण कहा गया है। और इस प्रकार कई प्रकार की कई विद्वानों की मदद से रेडियो तरंग की खोज की गई।

इस तरंग का उपयोग 50 मीटर के अंदर वायरलेस कम्युनिकेशन मीडियम में किया जाता है इस उपलब्धि के उपरांत सन 1900 में जगदीश चेंद्र बसु ने भारत में और गुवेलेल्मो मार्कोनी ने इंग्लैंड से अमेरिका वायरलेस मालिश भेजकर आम लोगो के बीच इस सेवा का समर्थन किया था।

और इस प्रकार 24 दिसंबर को कनाडा के वैज्ञानिक रेनील्ड फेसेंडेन के द्वारा सबसे पहले रेडियो प्रसारण आरम्भ किया गया। आप इसे भी जेन की हवाई जहाज का अविष्कार किसने किया और मोबाइल को किसने बनाया है।

इसके साथ ही सन 1918 को न्युयोर्क के हाईब्रिज इलाके में पहला रेडियो स्टेशन खोला गया लेकिन पोलिस के द्वारा इस स्टेशन को नष्ट कर दिया गया। इस घटना के ठीक एक घंटे के बाद 1919 में सांतास फ्रांसिस्को में स्टेशन बनाया गया इस स्टेशन के 1920 में लॉन की अनुमति प्राप्त हुई।

अनुमति मिलते ही विश्व के कई देशो में स्टेशन का नम्ब किया गया और 1923 में विज्ञापन प्रारंभ हुआ। रेडियो स्टेशन के खुलने के उपरांत ब्रिटेन में बीबीसी, अमेरिका में सीबीएस और एनबीसी नाम के सरकारी श्रेणियों को आरम्भ किया गया।

रेडियो कैसे काम करता है?

इस दौरान भारत में भी कई रेडियो क्लब को स्थापना हो चुकी थी लेकिन उस समय भारत में अंग्रेजो का शासन था और उनके द्वारा सभी स्टेशन के लाइसेंस को रद कर दिया गया था और उनका पेटेंट जमा कर लिया गया था।

आजादी के बाद यहां के सभी वर्गों को खोला गया और आज यहां रेडियो स्टेशन का जाल बना हुआ है। शुरुआती दौर में बहुत ही कम लोग थे जिनके पास रेडियो था और श्रोताओ की भी कमी थी लेकिन आज हर किसी के हाँथ में रेडियो उपलब्ध है।

आज हर कोई Radio का इस्तेमाल करता है। इसका उपयोग कोई समाचार सुनाने के लिए करता है तो वही कोई मनोरंजन के लिए करता है। रेडिओ एक प्रकार का तकनीक है जो रेडियो तरंग के मदद से सुहाना संग्रह करने का कार्य करता है।

रेडियो तरंग के लिए विद्युत चुम्बकीय ऊर्जा तरंगों का उपयोग किया जाता है, इस ऊर्जा तरंग में व्यवस्थित रूप से संशोधित करने के गुण होते हैं, जो सूचनाओ को आयाम, आवृत्ति, चरण, या पल्स चौड़ाई के मदद से एक स्थान से दुसरे स्थान पर भेजने में सहायक होता है।

जब रेल्स तरंग किसी विद्युत कंडक्टर से टकराता है तो ऑसिलिनेटिंग फील्ड्स जो कंडक्टर में वैकल्पिक चालू उत्पन्न करता है और सुचन को लोगो के बीच पहुँचता है।

रेडियो का उपयोग

आज रेडियो हर किसी के पास उपलब्ध है। आज रेडियो का इस्तेमाल निम्नलिखित तरीकेको से किया जाता है।

  • शुरुआत के दौर में रेडियो के मदद से टेलीग्राफ संदेश भेजने का कार्य किया गया था।
  • रेडियो पर प्रसारित होने वाले गानों से हम अपना मनोरंजन करते हैं और मिलाने वाले जानकारियों से अपना मस्तिष्क पावर बढ़ाते हैं।
  • इसका इस्तेमाल से हम अपने परिजनों से बात चित कर सकते हैं।
  • समय के साथ साथ कई सारे उपकरण का अविष्कार किया जा रहा है इसमे एक रेडियो रिमोट कंट्रोल है जिससे हम कई उपकरण का संचालन कर सकते है।

Radio रोचक तथ्य – मनोरंजक जानकारी

  • रेडियो का पहला स्टेशन ली डे फॉरेस्ट द्वारा न्यूयॉर्क के हाईब्रिज इलाके बनाया गया था, जिसे कुछ दिन के बाद पोलिस के द्वारा हटा दिया गया था।
  • नवंबर 1920 को फ्रैंक कॉनराड जो नौसेना के रेडियो विभाग में कार्य कर रहे थे, उन्हें क़ानूनी तौर पर रेडियो स्टेशन संचालन करने की अनुमति प्राप्त हुई।
  • सन 1923 में सर्वप्रथम विज्ञापन प्रसारण आरम्भ हुआ।
  • रेडियो पर प्रसारित होने वाला पहला सरकारी रेडियो स्टेशन BBC, CBS & NBC था।
  • नवम्बर 1941 को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने पहली बार भारतीयों को जर्मनी रेडियो पर संबोधित किया और इसका माध्यम से इन्होने अपना सलोगन “तुम मुझे खून दो मई तुम से आजादी दूंगा” दिया था।

निष्कर्ष: रेडियो पर निबंध

जी हाँ दोस्तों, आपको आज की पोस्ट कैसी लगी, आज हमने आपको बताया रेडियो का इतिहास और जानकारी बहुत आसान शब्दों में, हमने आज की पोस्ट में भी सीखा।

आज मैंने इस पोस्ट में What Is Radio History In Hindi सीखा। आपको इस पोस्ट की जानकारी अपने दोस्तों को भी देनी चाहिए। वे और सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट ज़रूर साझा करें। इसके अलावा, कई लोग इस जानकारी तक पहुंच सकते हैं।

यदि आप हमारी वेबसाइट के नवीनतम अपडेट प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको हमारी Sahu4You वेबसाइट सब्सक्राइब करना होगा।

नई तकनीक के बारे में जानकारी के लिए हमारे दोस्तों, फिर मिलेंगे ऐसे ही नई प्रौद्योगिकी की जानकारी के बारे में, हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद, और अलविदा दोस्तों आपका दिन शुभ हो।

About Vikas Sahu

मैं एक पेशेवर ब्लॉगर हूँ, इस ब्लॉग पर आप उन लेखों को पढ़ेंगे जिनसे आप अपना करियर और पैसा दोनों ऑनलाइन बना सकते हैं।