आज का चौघड़िया (Aaj Ka Choghadiya) – आज का शुभ समय क्या हैं, कौन सा समय शुभ और अशुभ हैं, जानिए दिन और रात का चौघड़िया! आपको आज का चौघड़िया मुहूर्त क्या है?

आज दिन के चौघड़िया मुहूर्त क्या है और आज रात के चौघड़िया मुहूर्त क्या है जैसे सवालों का उत्तर मिल सकता है।

विक्रम संवत 2078 – बुधवार, 27 अक्टूबर 2021

Today PanchangToday Rashifal
Today MausamToday Mandi Bhav

आज दिन का चौघड़िया

लाभ06:23 AM – 07:47 AM
अमृत07:47 AM – 09:11 AM
काल09:11 AM – 10:35 AM
शुभ10:35 AM – 11:59 AM
रोग11:59 AM – 13:23 PM
उद्वेग13:23 PM – 14:47 PM
चर14:47 PM – 16:11 PM
लाभ16:11 PM – 17:35 PM

आज रात का चौघड़िया

उद्वेग17:37 AM – 07:47 AM
शुभ19:09 AM – 20:41 AM
अमृत20:41 AM – 22:13 AM
चर22:13 AM – 23:45 PM
रोग23:45 PM – 01:17 PM
काल01:17 PM – 02:49 PM
लाभ02:49 PM – 04:21 PM
उद्वेग04:21 PM – 05:53 PM

यह समय दिल्ली एनसीआर के अनुसार आज दिन का चौघड़िया मुहूर्त क्या है?

चौघड़िया, चौघड़िया तालिका, चौघड़िया मुहूर्त, चौघड़िया नई दिल्ली, चौघड़िया मुहूर्त दिल्ली और एनसीआर, अमृत चौघड़िया, शुभ चौघड़िया, लाभ चौघड़िया, चर चौघड़िया, रोग चौघड़िया, काल चौघड़िया, उद्वेग चौघड़िया

आज का चौघड़िया – दिन रात शुभ समय

सूर्यास्त और सूर्योदय के बीच के समय को चौघड़िया कहते है। साथ ही सूर्यास्त और अगले दिन सूर्योदय के बीच के समय को रात का चौघड़िया कहते है। इसके अनुसार 12 घंटे के दिन और 12 घंटे की रात में 1.30 घंटे का एक चौघड़िया होता है।

ज्यादातर लोग किसी भी काम को करने से पहले शुभ और अशुभ समय देखते हैं, इसलिए आज का चौघड़िया देखने के बाद नीचे काल का चौघड़िया भी दिया गया है जो आपके काम आएगा!

हम आपको नीचे दिन रात आज का चौघड़िया की जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जिससे आप पता लगा सकते हैं कि कौन सा समय शुभ है और कौन सा समय अशुभ है, इसके लिए आपको चौघड़िया तालिका प्रदान की गई है।

Aaj Ka Choghadiya 25 October 2021– दिन 

मुहूर्तसमय-काल
अमृत06:28 AM – 07:52 AM
काल07:52 AM – 09:16 AM
शुभ09:16 AM – 10:40 AM
रोग10:40 AM – 12:04 PM
उद्वेग12:04 PM – 01:28 PM
चर01:28 PM – 02:52 PM
लाभ02:52 PM – 04:17 PM
अमृत04:17 PM – 05:41 PM

Aaj Ka Choghadiya 25 October 2021– रात

मुहूर्तसमय-काल
चर05:41 PM – 07:17 PM
रोग07:17 PM – 08:52 PM
काल08:52 PM – 10:28 PM
लाभ10:28 PM – 12:04 AM
उद्वेग12:04 AM – 01:40 AM
शुभ01:40 AM – 03:16 AM
अमृत03:16 AM – 04:52 AM
चर04:52 AM – 06:28 AM

Aaj Ka Choghadiya 26 October 2021– दिन 

मुहूर्तसमय-काल
रोग06:28 AM – 07:52 AM
उद्वेग07:52 AM – 09:16 AM
चर09:16 AM – 10:40 AM
लाभ10:40 AM – 12:04 PM
अमृत12:04 PM – 01:28 PM
काल01:28 PM – 02:52 PM
शुभ02:52 PM – 04:16 PM
रोग04:16 PM – 05:40 PM

Aaj Ka Choghadiya 26 October 2021– रात

मुहूर्तसमय-काल
काल05:40 PM – 07:16 PM
लाभ07:16 PM – 08:52 PM
उद्वेग08:52 PM – 10:28 PM
शुभ10:28 PM – 12:04 AM
अमृत12:04 AM – 01:40 AM
चर01:40 AM – 03:16 AM
रोग03:16 AM – 04:52 AM
काल04:52 AM – 06:28 AM

Aaj Ka Choghadiya 27 October 2021– दिन 

मुहूर्तसमय-काल
लाभ06:29 AM – 07:53 AM
अमृत07:53 AM – 09:16 AM
काल09:16 AM – 10:40 AM
शुभ10:40 AM – 12:04 PM
रोग12:04 PM – 01:28 PM
उद्वेग01:28 PM – 02:51 PM
चर02:51 PM – 04:15 PM
लाभ04:15 PM – 05:39 PM

Aaj Ka Choghadiya 27 October 2021– रात

मुहूर्तसमय-काल
उद्वेग05:39 PM – 07:15 PM
शुभ07:15 PM – 08:51 PM
अमृत08:51 PM – 10:28 PM
चर10:28 PM – 12:04 AM
रोग12:04 AM – 01:40 AM
काल01:40 AM – 03:16 AM
लाभ03:16 AM – 04:53 AM
उद्वेग04:53 AM – 06:29 AM

दिन रात का चौघड़िया मुहूर्त

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चौघड़िया मुहूर्त को देखते हुए उस कार्य या यात्रा को करना उत्तम रहता है। एक तिथि के लिए, दिन और रात के आठ भागों का चौघड़िया निर्धारित किया जाता है। इस प्रकार यदि हम 12 घंटे का दिन और 12 घंटे की रात को मानें तो 90 मिनट यानी 1.30 घंटे का चौघड़िया होता है, जो सूर्योदय से शुरू होता है।

Din ka Choghadiya
Raat ka Choghadiya
  • चोघडिया दिन रात का समय ऊपर प्रकाशित है जिससे डेली अपडेट किया जाता है, हालांकि चौघड़िया दिन को 7 बराबर अंतरालों में बांटता है, जिनमें 3 शुभ, 1 शुभ और 3 अशुभ होते हैं।
  • चौघड़िया गणना के प्रयोजन के लिए, एक दिन को दिन और रात में विभाजित किया जाता है – सूर्योदय से सूर्यास्त तक और रात सूर्यास्त से सूर्योदय तक।

आज का शुभ समय

Choghadiya, हिन्दू वैदिक कैलेण्डर पंचांग (Panchang) का मुख्य अंग या उसका ही एक रूप होता है तथा जब किसी विशेष कार्य को करने के लिए शुभ मुहूर्त नहीं निकलता औऱ उसको जल्दी से या फ़िर निर्धारित समय पर करना आवश्यक होता हैं तब उसके लिए Choghadiya Muhurta देखने का विधान है। चौघड़िया (चौघड़िया मुहूर्त) में अच्छा दिखने वाला होता है और यह अच्छा दिखने में अच्छा होता है।

जयपुर, जोधपुर, मुंबई, अहमदाबाद का चौघड़िया देखने के लिए चौघड़िया टेबल में देख सकते है, इसके दो भाग होते हैं उत्तरायण और दक्षिणायन, उसी प्रकार महीने में कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष होता है। इसी प्रकार एक दिन या दिन के दो भाग होते हैं, दिन और रात। इसमें भी सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच के समय को दिन का चौघड़िया और अगले दिन सूर्यास्त और सूर्योदय के बीच के समय को रात का चौघड़िया कहा जाता है।

शुभ चौघड़िया मुहूर्त के प्रकार

हिंदू वैदिक में सात प्रकार के चौघड़िया हैं जो इस प्रकार हैं- उद्वेग, लाभ, चर, रोग, शुभ, काल, अमृत, तो आइए उनके बारे में विस्तार से जानते हैं कि वे कब और कैसे काम करते हैं और साथ ही कौन से चौघड़िया अच्छे हैं और बुरा।

यहां है पूरी लिस्ट, जानिए कितने प्रकार के होते हैं चौघड़िया:

उद्वेग चौघड़िया – Udveg Choghadiya

Aaj Ka Choghadiya - शुभ मुहूर्त समय क्या है

उद्वेग चौघड़िया मुहूर्त में सरकारी और प्रशासनिक कार्य किए जाते हैं और उदवेग चौघड़िया का स्वामी ग्रह सूर्य है, जो वैदिक ज्योतिष में अशुभ है क्योंकि ज्योतिष में सूर्य का प्रभाव अशुभ माना जाता है, इसलिए इस चौघड़िया को उदवेग के रूप में चिह्नित किया गया है।

लाभ चौघड़िया – Labh Choghadiya

Labh Choghadiya

लाभ चौघड़िया का स्वामी ग्रह बुध है। हिंदू धर्म के अनुसार इसे एक शुभ और लाभकारी ग्रह माना जाता है। किसी नए कार्य को सीखने के उद्देश्य से लाभ चौघड़िया मुहूर्त अच्छा माना जाता है।

चर चौघड़िया – Char Choghadiya

Char Choghadiya

चर चौघड़िया का स्वामी ग्रह शुक्र है, जिसे एक शुभ ग्रह माना जाता है क्योंकि ज्योतिष में शुक्र को अशुभ माना जाता है, इसलिए इस चौघड़िया को परिवर्तनशील या चंचल के रूप में चिह्नित किया जाता है और चार चौघड़िया मुहूर्त को यात्रा के लिए सबसे अच्छा माना जाता है।

रोग चौघड़िया – Rog Choghadiya

Rog Choghadiya

जैसा कि नाम से पता चलता है, यह एक अशुभ समय है, इसलिए इस चौघड़िया को एक रोग के रूप में चिह्नित किया गया है और रोग का शासक ग्रह चौघड़िया मंगल है, जिसे क्रूर और अशुभ माना जाता है, इसलिए चौघड़िया मुहूर्त के दौरान रोग होता है। कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए।

शुभ चौघड़िया – Shubh Choghadiya

Aaj Ka Choghadiya - शुभ मुहूर्त समय क्या है

यह चौघड़िया शुभ मानी जाती है। इसका स्वामी ग्रह बृहस्पति है। यह एक शुभ और लाभकारी ग्रह माना जाता है। इसे शादियों आदि जैसे विशेष आयोजनों के लिए अच्छा माना जाता है।

काल चौघड़िया – Kaal Choghadiya

Kaal Choghadiya

इसका स्वामी ग्रह शनि है। इसे अशुभ माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र में शनि को अशुभ ग्रह माना गया है। इस चौघड़िया को एक तरह से काल माना गया है।

अमृत चौघड़िया – Amrit Choghadiya

Amrit Choghadiya

अमृत चौघड़िया भी इसी के नाम के अनुसार है, क्योंकि अमृत चौघड़िया का स्वामी ग्रह चंद्रमा है, जो बहुत ही शुभ और लाभकारी माना जाता है और इस चौघड़िया को अमृत के रूप में अंकित किया जाता है जिसमें किसी भी शुभ कार्य को करने में अच्छे परिणाम प्राप्त होते हैं।

Aaj ki TithiJanamdin kab Hai
Aaj ka TapmanAaj Gehun ka Rate

चौघड़िया समय की गणना कैसे की जाती है?

सबसे पहले अपने सूर्यास्त और सूर्योदय का स्थानीय समय जानें। दिन के लिए घंटे चौघड़िया और रातों को चौघड़िया समय अवधि को आठ से विभाजित करें, परिणाम को एक चौघड़िया मुहूर्त की समय अवधि कहा जाता है।

मुहूर्त कितने प्रकार के होते हैं?

मुहूर्त दो प्रकार के होते हैं, शुभ और अशुभ, जिन्हें आगे विभाजित और विभाजित किया जाता है।

मुहूर्त और चौघड़िया में क्या अंतर है?

मुहूर्त को किसी भी कार्य को करने का समय कहा जाता है और चौघड़िया का उपयोग शुभ और अशुभ समय को जानने के लिए किया जाता है।

कौन सा शुभ और अशुभ चौघड़िया है?

शुभ, चंचल, अमृत, लाभ को शुभ चौघड़िया तथा व्याकुलता, रोग और काल को अशुभ चौघड़िया कहते हैं।

ब्रह्म मुहूर्त का समय क्या है?

ब्रह्म मुहूर्त वह समय है जब रात समाप्त होती है और अगली सुबह शुरू होती है। जिसे रात्रि का अंतिम प्रहर भी कहा जाता है। आधुनिक घड़ी के अनुसार सुबह 4:24 से 5:12 तक के समय को ब्रह्म मुहूर्त कहा जाता है।

चौघड़िया कितने प्रकार के होते हैं?

चौघड़िया को दिन और रात के अनुसार आठ भागों में बांटा गया है। जिन्हें काल, शुभ, रोग, उद्वेग, चाल, लाभ, अमृत, काल आदि नामों से जाना जाता है।

चौघड़िया को आप कैसे देखते हैं?

चौघड़िया टेबल का इस्तेमाल चौघड़िया का समय देखने के लिए किया जाता है। अगर आप कोई खास काम करने जा रहे हैं तो ज्योतिष से सलाह ले सकते हैं। आप हमारे ज्योतिषी से सवाल पूछ सकते हैं।

FF Redeem Code TodayKolkata FF Fatafat Today
Aaj Ka Rashifal2 se 20 Tak Pahada

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *