Android Root क्या है? फ़ोन को रूट कैसे करें?

आज के लेख में, आपको Android Root के बारे में पूरी जानकारी देंगे। जिसमे आपको पता चलेगा की एंड्राइड रुट क्या है और किस प्रकार अपने एंड्राइड फ़ोन को आप आसानी से Root सकते है।

Android Phone को रूट एक्सेस देने से पहले आपको Phone Rooting के बारे में पूरी जानकारी होंना जरुरी है, क्यूंकि रूट के बहुत सारे फायदे और नुकसान है ऐसे में यह लेख पूरा पढ़ें और फिर सोचे की आपको अपने फ़ोन को रूट करना चाहिए या नहीं?

What is Android Rooting in Hindi
What is Android Rooting in Hindi

Android एक Operating System है जिसे आप केवल कुछ हद तक बदल सकते हैं, लेकिन एंड्रॉइड फोन को रूट करके एंड्रॉइड सॉफ्टवेयर की किसी भी फाइल को Delete और Modify सकते हैं।

यदि आपने कभी Liunux या Unix पर काम किया है, तो आपने Root शब्द अवश्य सुना होगा। Android Root का अर्थ है उस उपयोगकर्ता के पास, जिसके पास System Files तक पहुंचने की सारी Power है, इसे SuperUser या Privilege User भी कहा जाता है।

रूट उपयोगकर्ता के पास Operating System की सभी लॉक की गई फ़ाइलों को मॉडिफाई करने का विकल्प होता है ताकि वे किसी भी सिस्टम सॉफ़्टवेयर की फ़ाइलों को बदल सकें, जिसमें कई फायदे और नुकसान हैं, इसलिए आपकी Phone Root क्या है? Android Root के फायदे और नुकसान जानना जरूरी है।

एंड्राइड रूट क्या है? What is Root

सरल शब्दों में … रूट का मतलब “जड़(यानी Foundation) होता है अर्थात फ़ोन को रूट करने के बाद आप ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेर को अपने हिसाब से फेरबदल कर सकते है, आप सिस्टम सॉफ्टवेर पर पूर्ण रूप से कण्ट्रोल कर सकते है, मान लीजिये आपके फ़ोन में कोई Pre-Installed App है आप उन्हें भी डिलीट कर सकते है।

जब हम एक नया फोन लेते हैं, तो उसमें कई लिमिटलाइन्स होते हैं, जिन्हें आप बिना रूट किए नहीं बदल सकते हैं, जैसे फोन में Custom ROM Install करना, फोन की RAM बढ़ाना, फोन का सिस्टम फॉन्ट बदलना आदि। यह काम आप रूट के बिना नहीं कर सकते हैं।

अगर आप Android Root के बारे में नहीं जानते हैं, तो आपको अपने फोन को रूट करने की भूल नहीं करनी चाहिए, इसके बारे मैं आपको नीचे रूट के फायदे और नुकसान बताऊंगा।

कंप्यूटर में किसी भी सिस्टम सॉफ्टवेर फाइल को मॉडिफाई करने के लिए आपको “User Access Control” द्वारा “Run as administrator” की परमिशन होती है, पर फ़ोन में आप किसी भी सिस्टम फाइल को नहीं देख सकते और उससे बदल नहीं सकते, ऐसे में एंड्राइड रूट की मदद से SuperUser Power को अनलॉक कर सकते है।

क्या मुझे Android Root करना चाहिए?

अगर आप अपने धीमे फ़ोन से परेशान है तो फ़ोन को रूट करके आप फालतू के Useless Apps को डिलीट कर सकते है तथा Custom ROM को Install कर सकते है, सामान्यत आपको रूट नहीं करना चाहिए क्यूंकि आपकी एक गलती आपके फ़ोन को Dead कर सकती है।

अगर आपको फ़ोन का सॉफ्टवेर पसंद नहीं है तो फ़ोन को रूट करने के बाद आप आसानी से किसी अन्य ROM को इनस्टॉल करके इससे अलग बना सकते है, फ़ोन की RAM बढ़ाना और फ़ोन में नये Font को इनस्टॉल करना, यह काम आप Android Phone Rooting के बाद कर पायेंगे।

इससे आपको एंड्राइड की तरफ से कोई भी Security Patch Updates और System Software के Updates नहीं मिलेगे और इससे आपके फ़ोन की Warranty भी ख़तम हो जाती है, अंत में यहीं कहूँगा अगर आपका फ़ोन पुराना है तो उससे रूट कर सकते है वरना आपको रूट करना नहीं चाहियें।

मोबाइल फोन रूट करने के फायदे और नुकसान

एंड्राइड फोन का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है और आज के समय में एंड्राइड सबसे लोकप्रिय Mobile Operating System बन चूका है, पर एंड्राइड आपको बहुत सारी लिमिट देता है जिसको आप तोड़ नहीं सकते। लेकन एंड्राइड में आपको एक Superuser बनना है तो उसके लिए Root Access होना अनिवार्य है जिससे आप फ़ोन के सॉफ्टवेयर को अपग्रेड कर सकते है, इस पोस्ट में बताऊंगा कि एंड्राइड रूट क्या है? रूट करने के फायदे और नुकसान क्या है? Mobile Root Pros and Cons in Hindi?

Root Karne Ke Kya Fayde Or Nuksan, Pros Vs Cons, Advantage & Disadvantage

रूट करने के बाद, आप कई कार्यों को अनलॉक करते हैं जो बहुत उपयोगी होते हैं। जो कि Android OS की किसी भी सिस्टम सेटिंग को बदलने के लिए भी बहुत उपयोगी है।

मुझे बहुत सारी टिप्पणियाँ मिलीं, जिसमें मुझसे पूछा गया कि मोबाइल रूट क्या है, हिंदी में मोबाइल को रूट करने के फायदे और नुकसान, एंड्रॉइड रूट क्या है, मोबाइल फोन रूट कैसे करें, रूट करने के फायदे और नुकसान क्या है के बारे में हम इस लेख में विस्तार से सीखेंगे।

मोबाइल रूट करने के फायदे

अगर आप अपने फ़ोन को रूट कर लेते है तो आपको एंड्रॉयड रूट करने से फोन को क्या-क्या फायदा होता है, यहाँ पर सभी Android Rooting Benefitsa in Hindi बताने वाला हूँ जो की आपको एंड्राइड फ़ोन रूट करने से पहले जरुर पढने चाहिए।

1. बैटरी बैकअप बढ़ाएं

यदि आपका मोबाइल रूट किया गया है, तो आप Greenify App का उपयोग करके फ़ोन की प्रोसेसिंग स्पीड औत बैटरी बैकअप को बाधा सकते है और बहुत सारे Battery Performance द्वारा Underclock करके फ़ोन की बैटरी को दोगुना कर सकते है। कई System Apps जो आपकी बैटरी को Drain करते हैं, उनकी Access को Block कर सकते हैं, जो बैटरी को शक्ति देगा।

2. सिस्टम ऐप इंस्टॉल करें

जब हम नया एंड्राइड फ़ोन लेते है तो उसमे पहले से ही बहुत सारे फालतू के Android Apps इनस्टॉल किये हुए मिलते है, जो हमारे किसी काम के नहीं होते और फ़ोन की बैटरी तथा Performance को ख़राब करते है।

अगर आपका फ़ोन रूट है तो आप किसी भी सिस्टम सॉफ्टवेर की अप्प को डिलीट और अनइनस्टॉल कर सकते है, जो की सामान्य एंड्राइड उपयोगकर्ता ऐसा नहीं कर सकते।

3. Processing Speed बढ़ाएँ

आप अपना Processor OverClock और UnderClock चालू कर सकते हैं। इसका मतलब है कि आप अपने प्रोसेसर की गति बढ़ा सकते हैं। आप कुछ ऐसे ऐप्स का इस्तेमाल करके अपने मोबाइल की Hanging Problem को ठीक कर सकते हैं और तेज और लाइटवेट प्रोसेसिंग कर सकते हैं।

4. Deleted Files को रिकवर करें

अगर आपका मोबाइल फॉर्मेट हो गया है और सभी मीडिया फाइल और बैकअप डिलीट हो गए हैं, तो आप मोबाइल में सभी डेटा रिकवरी को Undeleter App और Diskdigger App की मदद से रिकवर कर सकते हैं।

5. Root Only Apps चलाएं

Android Mobile का Operating System Customizable होता है लेकिन सिस्टम सॉफ्टवेयर को मॉडिफाई करने वाले अप्प केवल रूट किये गये फ़ोन में काम करते है लेकिन यदि आप मोबाइल को रूट करते हैं तो आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

यदि आपके फ़ोन में एक पुराना संस्करण पर्याप्त एप्लिकेशन नहीं चला रहा है, तो आप उपयोग नहीं कर सकते, लेकिन यदि आपका फ़ोन रूट किया गया है, तो आप बहुत पुराने ऐप का भी उपयोग कर पाएंगे।

6. Full Device का Backup लें

अगर आपको पुरे फ़ोन का बैकअप तेयार करना है तो इसके लिए आपको फ़ोन रूट करना होगा, जिसके बाद कुछ थर्ड पार्टी अप्प जैसे Titanium Backup ऐप की मदद से पुरे एंड्राइड डिवाइस का बैकअप ले सकते है। ताकि कभी भी आपका फोन फॉर्मेट हो जाए तो आप फिर से सभी फाइलों को रिकवर कर सकते हैं।

7. Custom ROM को इनस्टॉल करें

अगर आपका फ़ोन पुराना है और आपको कोई भी सिस्टम अपडेट नहीं मिल रहें तो ऐसे में आप Custom ROM को इनस्टॉल करके फ़ोन को नया लुक दे सकते है, फ़ोन की Boot Screen, Fonts, Color और Notification Bar को Change कर सकते हैं।

Android Phone Root Pros and Cons in Hindi: फ़ोन को रूट करने के बाद आप सिस्टम सॉफ्टवेयर को मॉडिफाई करके Premium Applications की मदद से फ़ोन की स्पीड तेज़ कर सकते है और बैटरी लाइफ & Processor Speed को भी बूस्ट कर सकते है, पर रूट के इतने सारे फायदे होने के साथ इसके कुछ नुकसान भी है।

मोबाइल रूट करने के नुकसान

अगर आप अपने फ़ोन को रूट कर लेते है तो आपको एंड्रॉयड रूट करने से फोन को क्या-क्या नुकसान होता है, यहाँ पर सभी Android Root Loss in Hindi बताने वाला हूँ जो की आपको एंड्राइड फ़ोन रूट करने से पहले जरुर पढने चाहिए।

1. Rooting से Warranty खो देंगे

किसी भी फोन को रूट करने के बाद उसकी वारंटी ख़त्म हो जाती है, क्यूंकि एंड्राइड आपको सिस्टम सॉफ्टवेयर के साथ छेड़खानी करनी की परमिशन नहीं देता। पर अगर आप फ़ोन को रुट करके उसकी फ़ोन की पहचान को नहीं बदलते तब वारंटी नष्ट होने की दिक्कत नहीं होगी।

2. System और Security Update नहीं मिलेंगे

ज्यादातर लोग Update Problem की वजह से Android Phone को रुट नहीं करते क्यूंकि फ़ोन को रुट करने के बाद आपके फ़ोन में Security और System Updates मिलना बंद हो जायेगा।

मतलब की आपके स्मार्टफोन के लिए कोई नया ऑफिसियल अपडेट आपको नहीं मिल पायेगा और यह Unroot करने के बाद भी अपडेट का Issue रहता है।

3. Phone ख़राब हो सकता है

रुट करने से आपका फ़ोन पूरी तरह से ख़राब हो सकता है, क्यूंकि मोबाइल का सॉफ्टवेयर आपके हाथ में होता है और अगर आपको रुट का ज्ञान नहीं है तो गलती से कोई भी फाइल को डिलीट कर दिया तो आपका फ़ोन बूट नहीं होगा और Android Logo पर आकर रुक जाता है।

बहुत सारे ऐसे केस भी है जिनमे Rooting से उपयोगकर्ता का फ़ोन डेड हो जाता है और ठीक होने की कोई उम्मीद नहीं रहती।

यह जानकारी थी, Android Root क्या है? Android Root के फायदे, एंड्रॉइड को रूट करने के नुकसान। अब अपने हिसाब से तय करें कि फोन को रूट करना है या नहीं।

Android Phone को Root कैसे करें?

Android Phone को Rooting करना एक आसान काम नहीं है, आप किसी भी फोन का रूट अनलॉक कर सकते हैं, लेकिन इसके तरीके अलग हो सकते हैं। फोन को Lollipop और Marshmallow वर्जन के साथ रुट करना बहुत आसान था लेकिन अब एंड्रॉइड ने सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया है।

हम आपके फोन को दो तरह से रूट कर सकते हैं, पहला कंप्यूटर की मदद से (with PC) और दूसरा कंप्यूटर की मदद से (without PC), दोस्तों Android Phone Root करने के लिए, आपको कई Android Applications मिलेंगे, जिनकी मदद से आप अपने फोन को Root Access दे सकते हैं।

जिसमें पहला नाम KingRoot का आता है, जो फोन को रूट करने के लिए Best Android Application है। इस मोबाइल ऐप और कंप्यूटर को डाउनलोड करके, आप इससे फोन को रुट कर सकते हैं, अब हम आपको दो तरीके बताएंगे जिसमें आप यह सिखाएंगे कि King Root का उपयोग कैसे करें।

Computer के बिना Android को Root कैसे करे?

अगर आपके पास Computer और Laptop नहीं है तो आप बिना कंप्यूटर के भी अपने फोन को रूट कर सकते हैं। उसके लिए नीचे बताए गए तरीके के अनुसार सभी स्टेप्स को फॉलो करें जिसे आप फोन को रूट कर सकते हैं।

फोन को रूट करने से पहले, कृपया सुनिश्चित करें कि आपके फोन का कोई नुकसान नहीं हो, नीचे इसके लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं

  • आपके फ़ोन में बैट्री का स्त्तर कम से कम 50% होना चाहिए।
  • Android Phone को Root करने के लिए आपके पास एक अच्छा Internet होना चाहिए।
  • अज्ञात स्रोत को एप्लिकेशन इंस्टॉल करने की अनुमति दें।
    1. उसके लिए Phone Settings> Security> Unknown Source को इनेबल करें।
Enable Android Unknown Resources
Enable Android Unknown Resources

Step 1.

सबसे पहले KingoRoot वेबसाइट पर जाएं और Kingo Root.Apk को अपने फोन में डाउनलोड करें।

Step 2.

उसके बाद KingoRoot App Download ने के बाद फोन की Settings में जाए उसे Accessibilty Setting में जाकर Kingo Optimization ऑप्शन को इनेबल करते हैं।

  • अपने एंड्राइड फ़ोन की सेटिंग्स को खोले।
  • अब Accessibilty Setting में जाये।
  • फिर Kingo Optimization ऑप्शन को चालू करें।

Step 3.

आप अपने फोन में KingoRoot App को Open करें, ऐप खुलने के बाद आपको No Root लिखा हुआ दिखाई देगा और आपने आपके फोन का Modal Name और उसका Android Version दिखाई देगा, इसका मतलब है कि किंग रूट ने आपके फोन को डिटेक्ट कर लिया है।

  • अब One Click Root ऑप्शन पर क्लिक करें।
Android One Click Root Kaise Kare
Android One Click Root Kaise Kare

Step 4.

अब आपका Android Rooting होना स्टार्ट हो गया है, यह कितना समय लगा यह आपके इंटरनेट पर निर्भर है, अगर आपके पास अच्छा इंटरनेट है तो यह बहुत कम समय में आपके फोन को रूट कर देगा।

Android Phone Ko Root Kaise Kare
Android Phone Ko Root Kaise Kare

बेहतर है इसके लिए आप WiFi Network का इस्तेमाल करें जिससे आपका फोन जल्दी से रूट हो जाए।

कंप्यूटर से फ़ोन को रूट करने का तरीका

अगर आपका फोन बिना कंप्यूटर के Root होने में असमर्थ है तो आप कंप्यूटर लैपटॉप की मदद से भी फोन को रूट कर सकते हैं यह भी काफी आसान तरीका है जिसके लिए आपके पास कंप्यूटर या लैपटॉप होना अति-आवश्यक है

Step 1.

सबसे पहले KingoRoot वेबसाइट पर जाएं और कंप्यूटर में KingoRoot Software Download और Install करें

  • ब्राउज़र में KingoRoot वेबसाइट पर जाएं
  • डाउनलोड बटन पर क्लिक करें और सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करें

Step 2.

अब अपने फोन को USB Cable की मदद से कंप्यूटर से कनेक्ट करें

Step 3.

अपने फोन की Settings में जाए और Developer Option में जाकर USB Debugging को Enable करें

अगर आपको Developer Option क्या है? जानकारी नहीं तो हमारा पुराना लेख पढ़े, इसके लिए आपको About Phone में जाकर Build Number पर चार से पांच बार क्लिक करना होगा उसके बाद आपके फोन का Developer Option शुरू हो जाता है

Step 4.

आपका फोन कंप्यूटर से कनेक्ट होते ही आपके कंप्यूटर में ड्राइवर डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा उसको डाउनलोड होने की अनुमति दें

Install Root Drivers
Install Root Drivers

Step 5.

जब आपका ड्राइवर डाउनलोड हो जाएगा तो आपको स्क्रीन पर Root Status दिखाई देगा

Android Root With PC
Android Root With PC
  • अब Root बटन पर क्लिक करें

Root बटन पर क्लिक करते ही आपका कंप्यूटर आपके फोन को रूट करना शुरू कर देगा

Step 6.

अब आपका फोन Root होना शुरु हो चुका है थोड़ी देर इंतजार करें जब तक आपको Root Succeed लिखा हुआ नहीं मिलता

One Click Root Kaise Karne Phone Ko
One Click Root Kaise Karne Phone Ko

मुझे उम्मीद है कि आपको रूट के बारे में यह जानकारी अच्छी लगी होगी यहां पर आप ने सिखा एंड्राइड रूट क्या है? (What is Android Root in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी अगर आपको पहले नहीं पता था कि रूट क्या होता है और Android Phone को Root कैसे करते हैं, तो Comment में ज़रूर करें और इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें जिससे वह भी अपने फोन को रूट कर सकते हैं।

इस लेख में जरूरी है ताकि Android Phone को Root करने के फायदे और नुकसान क्या है जिससे आपको पता चल सके कि आपको अपने फोन को रूट करना चाहिए या नहीं? क्योंकि बहुत सारे एंड्राइड उपयोगकर्ता गलती से अपने फोन को रूट कर लेते है और अपने फोन को खराब कर लेते है ऐसे में Root Ke Faayde aur Nuksaan आपके लिए जाना बहुत जरूरी है।

आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट में जरूर बताएं और इसे सोशल नेटवर्क जैसे कि Facebook, Twitter और WhatsApp पर भी अपने दोस्तों के साथ अधिक से अधिक सांझा करें, धन्यवाद।

Default image
Vikas Sahu
मैं एक पेशेवर ब्लॉगर हूँ, इस ब्लॉग पर आप उन लेखों को पढ़ेंगे जिनसे आप अपना करियर और पैसा दोनों ऑनलाइन ब ना सकते हैं.. read more

9 Comments

  1. Apne blog ka theme change kro boring h

  2. sir mene apna blog banaya he, lekin pata nahi chla raha he ki vo google par submit he yaa nahi. agr me kisi post ka naam likhkar us ke aage bhi meri website ka naam likhta hu to bhi nahi aata he…aap ek baar check karen ki mera blog google par he yaa nahi..agr nahi he to use kaise submit karu

    #####

  3. Bro Jo 5 apps btya he WO kasy use krny he

  4. bhai mai sabhi rooting aap ko us chuka hu kisi bhi aap she mera mobile Root nahi huwa mrera mobile model n. Panasonic T44 Lite hai version hai Marshallw 6.0 hai an mai kaise apana mobile ko rooting karu kya hum mobile me opreting system se root trick bateye

  5. Comment: BHAI mere mo ( Micromax canvas a104) me kingroot install nhi ho rha her prakar se ker ke dhekh liya bat ye he ki mene ek bar kingroot install kerke mo. root kr liya lekin bahar se unistall kr diya tab se install nhi ho rha he bhai pliz help kro yar

  6. Comment:pliz help bhai

    • Comment:bhai mera mo.(micromax canvas a104) Ek bar kingroot se root ho gya tha lekin mene bahar se uninstall ker diya tha tb se kingroot install nhi ho rha he pliz help yar

Leave a Reply