AES Full Form

AES Full Form Hindi

AES का फुलफॉर्म Advanced Encryption Standard और हिंदी में एईएस का मतलब उन्नत एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड है। उन्नत एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड (AES) इलेक्ट्रॉनिक डेटा के एन्क्रिप्शन के लिए एक विनिर्देश है। यह अमेरिकी सरकार द्वारा अपनाया गया है और अब दुनिया भर में उपयोग किया जाता है।

AES का मतलब क्या है ?
परिभाषा: Advanced Encryption Standard
हिंदी अर्थ: उन्नत एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड
श्रेणी: कम्प्यूटिंग » सुरक्षा

एईएस क्या है? What is AES in Hindi

उन्नत एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड, जिसे इसके मूल नाम रिजिन्डेल द्वारा भी जाना जाता है, 2001 में अमेरिका के राष्ट्रीय मानक और प्रौद्योगिकी संस्थान द्वारा स्थापित इलेक्ट्रॉनिक डेटा के एन्क्रिप्शन के लिए एक विनिर्देश है। AES Encryption को संयुक्त राज्य अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैंडर्ड एंड टेक्नोलॉजी (NIST) द्वारा 2001 में स्थापित किया गया है और इसका उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एन्क्रिप्शन के लिए एक विनिर्देशन प्रदान करना है।

एईएस के डेवलपर बेल्जियम के दो क्रिप्टोग्राफर हैं: जोन डीमन और विंसेंट रिजमेन। ज्ञात हो कि दोनों ने AES की चयन प्रक्रिया के दौरान राष्ट्रीय मानक और प्रौद्योगिकी संस्थान को अपने ब्लॉक सिफर का प्रस्ताव दिया था। सुरक्षित एईएस का चयन करने के लिए, NIST ने सिफर के रिजेंडेल परिवार से तीन अलग-अलग ब्लॉक सिफर पर विचार किया। ये चयनित तीन सिफर सभी 128 बिट्स थे, लेकिन उनकी चाबियों की लंबाई 128, 192 और 265 बिट्स थी।

अंत में, Rijmen और Daemen द्वारा विकसित ब्लॉक सिफर को चुना गया। इस एईएस को पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में अपनाया गया था लेकिन समय के साथ, यह दुनिया भर में मुख्यधारा बन गया। एईएस को एक सममित ब्लॉक सिफर के रूप में जाना जाता है, दूसरे शब्दों में यह एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन के लिए एक ही कुंजी का उपयोग करता है।

AES: Advanced Encryption Standard

आज के लेख में आपने AES के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में जानी, एईएस से जुड़े सभी सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट में पढने को मिल जायेंगे, AES का फुल फॉर्म Advanced Encryption Standard होता है जिसे हिंदी में उन्नत एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड कहते है जिसे कम्प्यूटिंग » सुरक्षा की श्रेणी में रखा गया है।

AES का हिंदी में अर्थ क्या है? इसके उच्चारण और अर्थ की जानकारी AES क्या है हिंदी में से बहुत ही आसान शब्दों में पढ़ सकते हैं, Sahu4You.com को रोजाना पढ़ें, साथ ही हमसे फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर जरूर जुड़े।

Leave a Reply