PPC

December 19, 2023 (1y ago)

PPC का फुल फॉर्म है "Pay Per Click"। हिंदी में इसे "प्रति क्लिक भुगतान" कहते हैं।

PPC (Pay-Per-Click) in Hindi

यह एक ऑनलाइन विज्ञापन मॉडल है जहाँ विज्ञापक केवल तभी भुगतान करता है जब कोई यूज़र उसके विज्ञापन पर क्लिक करता है।

इस तरह PPC में विज्ञापकों को अपने लिए लीड जनरेट करने के लिए प्रत्येक क्लिक पर भुगतान करना पड़ता है। यह एक कारगर तरीका है जिससे बिजनेस ऑनलाइन विजिबिलिटी और सेल्स बढ़ा सकते हैं।

समझें इसका मतलब

PPC, यानी Pay-Per-Click, विज्ञापन करने का एक तरीका है जो ऑनलाइन प्रचार-प्रसार में इस्तेमाल होता है। यह एक ऐसी विपणन विधि है जिसमें विज्ञापन देने वाले को उसके प्रदर्शन होने पर ही भुगतान करना पड़ता है। यह तकनीकी रूप से सरल है, लेकिन इसका तय तरीके से उपयोग करना और समझना महत्वपूर्ण है।

PPC में, आपके विज्ञापन पर क्लिक होने पर ही आपको भुगतान करना पड़ता है। यह संकेत करता है कि आपका विज्ञापन दर्शनाता के द्वारा देखा जा रहा है, लेकिन जब तक वह नहीं क्लिक होता, तब तक आपको कोई भुगतान नहीं करना पड़ता।

Uses of PPC

PPC का उपयोग ऑनलाइन मार्केटिंग में टारगेट एडवर्टाइजमेंट करने के लिए किया जाता है। यह आपको सीधे वह लोग तक पहुंचाता है जो आपके विज्ञापन के लिए सबसे संवेदनशील हैं।

Main Points:

विज्ञापन प्रकार: इसमें टेक्स्ट, इमेज, या वीडियो जैसे विभिन्न प्रकार के विज्ञापन हो सकते हैं।कीमत प्रति क्लिक: यह वह राशि है जो आपको प्रति क्लिक भुगतान करनी पड़ती है।टारगेट जनसंख्या: यह व्यक्तिगत या समूह जिसे आप आकर्षित करना चाहते हैं।क्यों जरूरी है?

PPC आपको व्यावसायिक रूप से अधिक दिखावा और विश्वासीय ग्राहकों तक पहुंचाने में मदद करता है। यह व्यापार और ब्रांड को ऑनलाइन स्थिति में बढ़ावा देता है।

You might like:

PPC एक अत्यंत महत्वपूर्ण डिजिटल मार्केटिंग उपाय है जो व्यावसायिक उद्देश्यों को पूरा करने में सहायक होता है। इसका उपयोग समझना और इसे सही तरीके से उपयोग करना आपके व्यवसाय को ऑनलाइन मान्यता और पहचान दिलाने में मदद कर सकता है।

Gradient background