SOS Full Form

हिंदी में SOS का फुल फॉर्म क्या है, SOS क्या है और सिग्नल कैसे दिया जाता है, SOS का हिंदी में अर्थ क्या है। यदि आप चाहते हैं कि एसओएस की उत्पत्ति कैसे हुई है, तो आप सही लेख पढ़ रहे हैं।

SOS Full Form in Hindi
SOS Full Form in Hindi

SOS एक आपातकालीन संकेत है, जिस तरह ट्रैफिक सिग्नल पर रुकने के लिए आपको रेड लाइट का सिग्नल दिया जाता है मतलब आपको रोकने की आवश्यकता है, वह ट्रैफिक सिग्नल है, और SOS जिसे आपातकालीन संकेत कहा जाता है।

एसओएस इंटरनेशनल कोड एक संकेत है जो अत्यधिक संकट की स्थिति में आपातकालीन स्थिति के लिए एसओएस संकेत प्रदान करके मदद मांगता है।

SOS Full Form in Hindi: एसओएस क्या है?

एसओएस एक मोर्स कोड संकट संकेत (▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄▄) है, जिसका उपयोग अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किया जाता है, जो मूल रूप से समुद्री उपयोग के लिए स्थापित किया गया था। SOS Stands for “Save Our Souls” (हमारी आत्माओं को बचाओ) SOS का हिन्दी मे मतलब “हमें बचाओं” होता है।

इसे एक और मतलब Save Our Ship भी होता है। इसे Distress Code भी कहते है। यह संकट के वक़्त दिया जाने वाला Signal होता है। हिंदी में जिसका अर्थ है “स्थिति संदेश, तत्काल सहायता के लिए पुकार” आदि। SOS इंटरनेशनल कोड सिग्नल है जो किसी बड़े संकट या आपातकाल के मामले में SOS सिग्नल देते है।

एसओएस मीनिंग इन हिंदी: परिस्थिति संदेश, तत्काल मदद के लिए पुकार के लिए
SOS एक Morse Code है जिसको खतरनाक स्थिति मुझे मुश्किल कोड की तरह है उपयोग करते है, कोड सिग्नल की विशेष रूप से व्यक्ति जो समस्या में है उससे आपातकालीन मदद चाहिए के लिए होता है।

एसओएस का इतिहास हिंदी में

यह एसओएस पहली बार जर्मन सरकार द्वारा 1 अप्रैल 1905 को रेडियो विनियमों में प्रकाशित किया गया था, दूसरा रेडियोटेलेग्राफिक कन्वेंशन मेरे साथ जुड़ने के बाद मानक बन गया, यह 1 जुलाई 1909 को प्रभावी हो गया, 1999 में इसे समुद्री संकट संदेश के रूप में भेजा गया।

फिर लोगों ने इसे अपने तरीके से नाम देना शुरू कर दिया जैसे: Save Our Souls, Save Our Ship या Send Our Succor। जिनमें से Save Our Souls के लिए अधिक प्रचलन है, पर असल में SOS का कोई सही मतलब नहीं होता है।

SOS सिग्नल कैसे भेजे जाते हैं?

SOS सिग्नल को विश्व युद्ध 2 में प्रत्यय कोड के साथ साझा किया गया है और एसओएस ऑडियो सिग्नल, स्वचालित अलार्म या कई अन्य तरीकों से कठिनाइयों के दौरान SOS सिग्नल प्रदान करके खुद को बचाता है, वे सीमा या चिकनी क्षेत्रों में समस्याओं पर संकट संकेत देते हैं। जो आपात स्थिति में उन्हें जल्दी मदद करता है।

Smoke के द्वारा

धुआँ करके भी आप SOS Signal भेज सकते है, अल-अलग सन्देश पहुंचाने के लिए आप विभिन रंगो के स्मोक का इस्तेमाल करके अपने समस्या को बता सकते है, अगर Smoke का रंग Red हो तो और भी अच्छा होगा क्योंकि Red Color का प्रकीर्ण काफी कम होता है और ये दूर से ही दिख जाता है।

Mirror के द्वारा

शीशे प्रकाश को Reflect करके उसकी रौशनी से SOS Signal भेजने के लिए कर सकते है, लेकिन उसके लिए Sun Light का होना बहुत जरूरी है। इसके लिए आप काच या भी चमकने वाली किसी भी चीज़ का इस्तेमाल कर सकते है।

Light के द्वारा

अगर आप अँधेरे में कहीं फस जाते है तो आग जलाकर प्रकाश करके मदद का संकेत भेज सकते है, ऐसे में लाइट ही एक मात्र सहारा होती है, आग, Mobile की Light, Torch या Flash Light का इस्तेमाल कर सकते है।

Tapping के द्वारा

इससे इशारो में SOS भेजना भी कहा जाता है, टैपिंग की मदद से बिना कोई बात किये आपातकालीन सन्देश भेज सकते है, पर इसके लिए टैपिंग लैंग्वेज आना भी जरुरी है अगर आप किसी संकट में फस गए है तो मदद के लिए किसी को टैपिंग लैंग्वेज में कॉल करके आपातकालीन मदद ले सकते है।

क्या आप जानते हैं एसओएस का हिन्दी में क्या मतलब होता है? तो यहाँ पर जानिए SOS Full Form in Hindi का उच्चारण और मतलब क्या है। पाइए SOS Kya Hai की जानकारी और हिन्दी में परिभाषा एकदम सरल भाषा में। आशा है कि आपको एसओएस सिग्नल कैसे भेजे जाते हैं? में पूरी जानकारी मिल गई होगी। आपको इस पोस्ट के माध्यम से S.O.S. Full Form भी पता चला।

आज मैंने इस पोस्ट में सीखा What Is SOS In Hindi और आपको इस पोस्ट की जानकारी अपने दोस्तों को भी देनी चाहिए। तथा Social Media पर भी यह पोस्ट ज़रुर Share करे। इसके अलावा, कई लोग इस जानकारी तक पहुंच सकते हैं।

हमारी पोस्ट आपको कोई समस्या नहीं है या आपका कोई सवाल नहीं है, हमें Comment Box में Comment करके इस पोस्ट के बारे में बताएं। हमारी टीम आपकी मदद जरूर करेगी।