OCD Full Form

OCD Full Form in Hindi क्या है OCD का फुल फॉर्म अनियंत्रित जुनूनी विकार है। ओसीडी के बारे में अधिक जानें। Obsessive Compulsive Disorder क्या है।

Obsessive-Compulsive Disorder in Hindi
Obsessive-Compulsive Disorder in Hindi

OCD Full Form Hindi

OCD का फुलफॉर्म Obsessive Compulsive Disorder और हिंदी में ओसीडी का मतलब अनियंत्रित जुनूनी विकार है। ऑब्सेसिव-कम्पल्सिव डिसऑर्डर (OCD) एक मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति है जो कि घुसपैठ, आशंका, भय या चिंता पैदा करने वाले घुसपैठिया विचारों से होती है।

Full Form of OCD in Hindi
परिभाषा: Obsessive Compulsive Disorder
हिंदी अर्थ: मनोग्रसित-बाध्यता विकार
श्रेणी: Medical » Diseases & Conditions

ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर क्या है? OCD in Hindi

ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर एक ऐसी बीमारी है जहाँ रोगी के मन में बार बार तर्कहीन विचार आता है और वह न चाहते हुए भी उन विचारो के बारे में सोचता है और उन्हे पूरा करने की पुरी कोशिश करता है।

ऑब्सेसिव कम्पल्सिव डिसऑर्डर जो की ऑब्सेशन एंड कंपल्सियन से मिलकर बना है।

जुनून एक विचार, संदेह या अवहेलना है जो रोगी की इच्छा के विपरीत उसके मन में बार-बार आता है, और उस व्यक्ति का उस पर नियंत्रण नहीं होता है। इस तरह के विचार अक्सर विनोदी अपरिमेय और असंगत होते हैं।

रोगी भी इस बात को अच्छे से समझता है और उनसे छुटकारा भी पाना चाहता है लेकिन वह ऐसा कर नहीं पाता है। इसलिए दिन में ज्यादातर समय वह परेशान और घबराया रहता है।

Obsessive-Compulsive Disorder के Symptoms

मजबूरी के लक्षण:

मजबूरी के लक्षण भी बहुत ज्यादा होते है. मजबूरी के लक्षणों में मुख्य रूप से बाध्यकारी व्यवहार शामिल होते हैं जो दोहराए जाने वाले कार्य होते हैं जो लोग जुनून के कारण होने वाली चिंता को कम करने के लिए करते हैं.

कुछ सामान्य मजबूरी के लक्षण, जो मुख्य रूप से मजबूरी के विचार हैं, वो इस प्रकार हैं –

  • किसी विशेष तरीके से वस्तुओं की गिनती बार-बार करना.
  • एक विशेष क्रम में वस्तुओं की व्यवस्था करना जैसे कि चादरें, किताबें आदि.
  • यह सुनिश्चित करने के लिए दरवाजे को बार-बार चेक किया जाता है कि वह बंद है या नहीं है.
  • यह सुनिश्चित करने के लिए स्टोव या किसी अन्य उपकरण की बार-बार जाँच करना कि वह बंद या नहीं है.

जुनून के लक्षण

अक्सर जुनून के लक्षण में बहुत कुछ देखने को मिलता है क्योंकि जुनून दोहराया जाता है, अवांछित विचार, आग्रह या चित्र जो परेशान कर रहे हैं और इस तरह चिंता और संकट का कारण बनते हैं.

  • कुछ सामान्य जुनून लक्षण, जो मुख्य रूप से जुनूनी विचार हैं, वो इस प्रकार हैं –
  • दूसरों द्वारा स्पर्श वस्तुओं को छूने से दूषित होने का डर होता है.
  • इसमें अक्सर संदेह होता है कि आपने दरवाजा बंद नहीं किया है और चूल्हा आदि को बंद कर दिया है या नहीं.
  • इसमें अक्सर व्यक्ति को अपने आप को या किसी ऐसे व्यक्ति को चोट पहुँचाने की छवियाँ जो आपको पसंद हैं.
  • इसमें अक्सर व्यक्ति को चीजों को खोने या उन चीजों के न होने का डर, होता है जिनकी आपको आवश्यकता हो सकती है.

Obsessive-Compulsive Disorder के कारण

Obsessive Compulsion Disorder क्यों होता है?

ओसीडी का कारण अभी तक पूरी तरह से ज्ञात नहीं है। लेकिन यह माना जाता है कि निम्नलिखित कारक ओसीडी का कारण बन सकते हैं –

  1. जैविक कारक – ओसीडी आपके शरीर में एक प्राकृतिक रासायनिक प्रक्रिया या मस्तिष्क के कार्यों में बदलाव का परिणाम हो सकता है।
  2. जेनेटिक्स कारक – ओसीडी होने का एक कारक आनुवंशिकता हो सकता है। लेकिन अभी तक किसी विशिष्ट जीन की पहचान नहीं की गई है जो सीधे ओसीडी के साथ संबंध रखता हो।
  3. वायुमंडल कारक – कुछ पर्यावरणीय कारकों जैसे संक्रमण को ओसीडी का कारण माना जाता है, लेकिन अभी और अधिक शोध की आवश्यकता है।

OCD का इलाज कैसे किया जाएगा?

1. Psychotherapy

इस तरह के व्यवहार में थेरेपी आपके सोच पैटर्न को बदलने में एक लंबा रास्ता तय कर सकती है। यह आपकी ओर से जोखिम और काम को रोकने में सहायक है।

आपका डॉक्टर आपको चिंता पैदा करने या मजबूरियां निर्धारित करने के लिए डिज़ाइन की गई स्थिति में डाल देगा। आप अपने ओसीडी विचारों या काम को कम करना सीखेंगे।

2. Relaxation

ध्यान, योग और मालिश जैसी सरल चीजें तनावपूर्ण ओसीडी लक्षणों में मदद कर सकती हैं।

ऐसे में आप उन चीजों को भूल पाएंगे। इसके साथ, आप बार-बार किसी भी चीज के बारे में सोचने में समय नहीं बिताएंगे।

OCD MEANING IN HINDI:

क्या आप जानते हैं OCD का हिन्दी में क्या मतलब होता है? ओसीडी का फुल फॉर्म व Obsessive Compulsive Disorder क्या होता है जिसे हिंदी में अनियंत्रित जुनूनी विकार कहते है।

OCD का उच्चारण और मतलब क्या है। पाइए definition की जानकारी और हिन्दी में परिभाषा अपनी हिंदी भाषा में बहुत ही आसान शब्दों में पढ़ सकते हैं, Sahu4You.com को रोजाना पढ़ें, साथ ही हमसे फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर जरूर जुड़े।

Leave a Reply